कार के शीशे तोड़ डाले

घायल लोगों को देख इलाके के लोगों का गुस्सा भड़क उठा और उग्र लोगों ने कार चालक को पकड़ लिया और कार के शीशे तोड़ डाले. जब लोगों ने कार चला रहे ड्राइवर को बाहर निकाला तो पता चला कि कार चलाने वाला नौसिखया था और अभी उसकी उम्र महज 14 साल थी. फिलहाल मौके पर पहुंचे चालक के पिता ने धक्कामुक्की कर उसे भगा दिया.

सुबह निकला था कार लेकर

शिवपुर में नॉर्मल स्कूल के पास रहने वाले शरीफ अहमद का 14 वर्षीय बेटा रहीम रविवार की सुबह घर से कार लेकर निकला. कार के पीछे डीएम कार्यालय लिखा होने के साथ सपा का झंडा भी लगा था. उसी दौरान रहीम की अनियंत्रित कार ने एक बाइक में टक्कर मार दी. दुर्घटना के बाद कार की चपेट में आने से वीडीए कॉलोनी के सुरेश मिश्र व उनका बेटा बाल-बाल बच गए. इसके बाद कार एक बंद दुकान के शटर से टकरा कर रुक गई. इसी दौरान सुरेश ने कार चला रहे रहीम को पकड़ लिया. इस बीच हादसे की खबर पाकर पहुंचे चालक के पिता शरीफ ने सुरेश को धमकी देते हुए बेटे को मौके से भगा दिया. वहीं हादसे की सूचना के बाद उग्र लोगों ने दुर्घटना करने वाली कार को क्षतिग्रस्त कर दिया. मौके पर पहुंची पुलिस ने बाइक सवार गंभीर रूप से घायल जितेंद्र विश्वकर्मा (37), उसकी पत्नी ममता (32) व बहन रेखा (21) को पास के प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया जहां हालत नाजुक होने पर रेखा को मंडलीय अस्पताल रेफर कर दिया गया. सभी घायल फूलपुर के नएपुर गांव के रहने वाले हैं. जितेंद्र अपनी बहन का इलाज कराने शहर आ रहा था. पुलिस कार चालक की तलाश कर रही है.