-चार वर्षीय छोटे भाई के मौत के बाद छह वर्षीय बड़ा भाई सदमे में

PRAYAGRAJ: कैंट थाना क्षेत्र के नेवादा में गुरुवार शाम एक तेजरफ्तार कार ने मासूम को रौंद दिया। उसकी मौके पर ही मौत हो गई। जानकारी मिलते ही मासूम के परिवार में कोहराम मच गया। परिजनों का रो रोकर बुरा हाल हो गया। मौके पर पहुंची कैंट पुलिस ने भीड़ का शांत कराया और मासूम की बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।

खेलते-खेलते चला गया था रोड पर

नेवादा निवासी जितेंद्र गवर्नमेंट प्रेस में चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी हैं। बुधवार शाम को उनका चार वर्षीय छोटा बेटा अंशू गली से खेलता हुआ अचानक रोड पर आ गया। इस बीच सामने से तेज रफ्तार आ रही कार के नीेचे आ गया। कार चला रहा ड्राइवर किशन भी उसी मोहल्ले का रहने वाला है। कैंट पुलिस ने बताया कि किशन बच्चे को अपनी कार में लेकर अशोक नगर के दो प्राइवेट हॉस्पिटल गया, जहां डॉक्टरों ने अंशु को मृत घोषित कर दिया। जब मासूम का बॉडी लेकर किशन पहुंचा तो वहां मौजूद भीड़ ने हंगामा शुरू कर दिया। इस बीच पहुंची कैंट पुलिस ने किशन को गिरफ्तार कर लिया और कार समेत थाने ले आई। अंशू की मां लाजो कुमारी घटना के बाद से बेहोश हैं। जबकि अंशु का छह वर्षीय बड़े भाई अनमोल को समझ नहीं आ रहा कि उसका भाई उठ क्यों नहीं रहा।

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner