लखनऊ (ब्यूरो)। मंगलवार को मायावती ने इस बाबत ट्वीट किया, 'अभी हाल में सीबीएसई ने 10 वीं व 12वीं के लिए परीक्षा शुल्क में जो 24 गुना तक बढ़ोतरी की है, जिसके तहत अब एससी-एसटी छात्रों को 50 रुपये के बजाय 1200 रुपये देने होंगे।

सीबीएसई फैसले की वापसी की मांग

इसी प्रकार सामान्य वर्ग के छात्रों की शुल्क में भी दोगुनी वृद्घि की गई है। यह अति दुर्भाग्यपूर्ण, जातिवादी व गरीब विरोधी फैसला है।सीबीएसई इसे तुरंत वापस ले, बीएसपी की यह मांग है।' वहीं दूसरी ओर सोनभद्र कांड को लेकर मायावती ने कांग्रेस के साथ सपा पर भी निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि कांग्रेस व सपा के भूमाफिया ने पहले आदिवासियों की जमीन हड़प ली और अब घडिय़ाली आंसू बहाए जा रहे हैं।

इलाहाबाद के छात्रों का कमाल, ब्लड प्रेशर-टेम्प्रेचर-एयर एक साथ मापने की डिवाइस बनाई


कांग्रेस के साथ सपा पर भी हमला
अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा- 'सोनभद्र कांड के पीड़ित आदिवासियों के मुताबिक पहले कांग्रेस व फिर सपा के भू-माफिया ने इनकी जमीन हड़प ली, जिसका विरोध करने पर, इनके कई लोगों को मौत के घाट उतार दिया गया। अब इस घटना को लेकर सपा व कांग्रेस के नेताओं को अपने घडियाली आंसू बहाने की बजाय, इन्हें वहां पीडि़त आदिवासियों को, उनकी जमीन वापस दिलाने हेतु आगे आना चाहिए।'

lucknow@inext.co.in

काशी विद्यापीठ में एडमिशन लें बिना टेंशन: कम आवेदन आने से 20 कोर्सेज में होगा डायरेक्ट एडमिशन

National News inextlive from India News Desk