नई दिल्ली, (पीटीआई) केंद्र ने रविवार को राज्य सरकारों और केंद्रशासित प्रदेशों से कहा कि वे अपने प्रशानिक अधिकारियों को राज्य और जिला सीमाओं को प्रभावी ढंग से सील करके लॉकडाउन के दौरान प्रवासी श्रमिकों के मूवमेंट को रोकने के लिए कहें। कोरोनावायरस लॉकडाउन के दौरान मजदूरों के पलायन के मद्दे नजर केंद्र सरकार ने निर्देश जारी किया है। मुख्य सचिवों और डीजीपी के साथ एक वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान, कैबिनेट सचिव राजीव गौबा और केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने उन्हें यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि लॉकडाउन के दौरान शहरों या राजमार्गों पर लोगों की कोई आवाजाही न हो।

आदेश के बावजूद हुआ मूवमेंट

एक सरकारी अधिकारी ने कहा कि देश के कुछ हिस्सों में प्रवासी श्रमिकों की आवाजाही हुई है। जबकि निर्देश जारी किए गए थे कि जिला और राज्य की सीमाओं को प्रभावी रूप से सील किया जाना चाहिए। ये भी बताया गया कि राज्यों को यह सुनिश्चित करने के लिए कहा गया था कि शहरों या राजमार्गों पर लोगों की आवाजाही न हो। केवल माल की आवाजाही की अनुमति दी जाने की इजाजत थी। अधिकारी के अनुसार जिला मजिस्ट्रेट और एसपी को इस दिशा में सुचारू कार्यान्वयन के लिए व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदारी देने की सलाह दी गई थी। सभी से कहा गया था कि सीमायें सील होने पर प्रवासी मजदूरों को कोई दिक्कत ना हो इसके लिए गरीब और जरूरतमंद लोगों सहित उनको भी भोजन और आश्रय की पर्याप्त व्यवस्था की गई है।

Posted By: Molly Seth

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner