-खाली प्लॉट और जगह को लोगों ने बना रखा है कूड़ादान

-सड़क किनारे कूड़ा फेंकना बन चुकी है लोगों की आदत

PRAYAGRAJ: 'बुरी आदत है ये, आदत अभी बदल डालो.' प्रयागराज से ताल्लुक रखने वाले बिग बी अमिताभ पर फिल्माई गाने की यह पंक्तियां यूं तो किसी और संदर्भ में थीं. लेकिन शहरवासियों की एक ऐसी 'गंदी आदत' है, जिसके लिए गाने की यह पंक्तियां बिल्कुल सटीक बैठती हैं. जीहां, प्रयागराजवासियों की यह आदत है खुले में कूड़ा फेंकने की. खाली प्लॉट से लेकर सड़क किनारे तक जहां जगह दिखी, बस वहीं कचरा डाल दिया. लोगों की इस आदत को सुधारने के लिए ही स्वच्छ भारत अभियान भी चल रहा है, लेकिन यह लोग सुधरने का नाम नहीं ले रहे.

मौका मिला नहीं कि बना दिया कूड़ादान

दैनिक जागरण-आई नेक्स्ट ने लोगों की इधर-उधर कूड़ा फेंकने की आदत का पता लगाने के लिए कई मोहल्लों का जायजा लिया. गोविंदपुर, सलोरी, बघाड़ा, रसूलाबाद चौराहा, बैंक रोड समेत तमा जगहों पर खाली जमीन को लोगों ने कूड़ादान बना लिया है. इसके चलते यहां पर गंदगी का अंबार हो गया है, जिससे चारों तरफ दुर्गध फैल रही है. साथ ही साथ आवारा जानवर भी इस गंदगी को हर तरफ फैलाने में लगे हैं.

नियमानुसार आप हैं जिम्मेदार

सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट रूल्स कहते हैं कि लोग अपने घरों के कूड़ा निस्तारण के लिए खुद जिम्मेदार हैं. यह आपकी जिम्मेदारी है कि किस प्रकार इसका निस्तारण करें. यह नियम खाली प्लॉट या सड़क पर कूड़ा फेंकने की परमिशन नहीं देता. भविष्य में ऐसा करते पाए जाने पर लोगों कार्यवाही का भी शिकार हो सकते हैं. अधिकारियों की माने तो लोगों को जागरुक करने लगातार कोशिश की जा रही है.

बॉक्स

सेलिब्रिटी स्पीक

ठीक नहीं है कूड़ा फैलाना

कूड़े को हमेशा सही जगह पर फेंकना चाहिए. ऐसा करने में कोई बुराई नहीं है. विकसित देशों में स्वच्छता पर विशेष ध्यान दिया जाता है. वहां पर सिस्टम का काम कूड़ा कलेक्शन का है. लेकिन यह कलेक्शन कहां से होना है, वह स्थान चिन्हित हैं. पब्लिक उन्हीं जगहों पर कूड़ा फेंकती है. लेकिन हमारे देश में ऐसा नहीं है. कई बार देखा जाता है कि लोग चलती कार की खिड़की से नमकीन के पैकेट, पानी की बोतल और फलों के छिलके फेंक देते हैं. मोहल्लों में लोग चार कदम चलकर डस्टबिन तक नहीं जाते. गेट के भीतर से ही सड़क पर या आसपास पड़ी खाली जगह पर कूड़ा फेंक देते हैं. धीरे-धीरे यह जगह डंपिंग स्पॉट बन जाती है. आखिर इस आदत में सुधार कौन करेगा. यह काम हमारा और आपका है. मेरी लोगों से अपील है कि बिना देरी किए अभी अपनी आदत को बदल दें और सही जगह पर कूड़ा फेंकने की आदत डालें.

-समीर अंजान

गीतकार, बॉलीवुड

नियम कहता है कि लोग अपने कूड़े के निस्तारण के लिए जिम्मेदार हैं. काफी सुधार आया है. लेकिन इस कैंपेन को जन-जन तक पहुंचाने में समय लग रहा है. लोग सुधर जाएं तो जगह-जगह फैली गंदगी से छुटकारा मिल सकता है.

-उत्तम वर्मा, पर्यावरण अभियंता, नगर निगम

जो लोग सड़क पर कूड़ा फैलाते हैं, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं. उचित यही है कि डस्टबिन में ही कूड़ा डालें. अगर कोई दिक्कत है तो नगर निगम के कर्मचारियों को कूड़ा दें लेकिन इसे इधर-उधर कतई न फेंकें.

-डॉ. आशीष गोयल, कमिश्नर

अगर डस्टबिन नहीं है और बाहर फेंका गया है कूड़ा तो हमें भेजें तस्वीर

डियर रीडर्स, अगर आपके घर के आसपास भी डस्टबिन नहीं है और कूड़ा बाहर फेंका हुआ है तो आप मोबाइल से फोटो खींचकर वॉट्सअप करें. हमारा वॉट्सअप नंबर है..8004557900