-भारद्वाज पार्क पर विशाल प्रतिमा और भारद्वाज मुनि पर आधारित लेजर शो तथा शिलापट लगाने के निर्देश

-पुराने नगर में भी नगर विकास मंत्री को भेजकर कराया गया निरीक्षण

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को अपने पांच घंटे के तूफानी दौरे में कुंभ के कार्यो का स्थलीय निरीक्षण किया. इस दौरान उनके साथ तमाम मंत्रियों सहित अधिकारियों का रेला लगा रहा. सीएम ने प्रत्येक स्थल का गहन निरीक्षण करते हुए उसमे सुधार के निर्देश दिए. साथ ही जन प्रतिनिधियों को मांगों को पूरा करने का आश्वासन भी दिया.

दोबारा पहुंचे धोबीघाट

रात के बाद एक बार फिर रविवार सुबह आठ बजे सीएम धोबीघाट पुन: निरीक्षण को पहुंचे. साथ ही नगर में सफाई प्रबन्ध के लिए प्रयोग में लाई जाने वाली टाटा एस गाडि़यों, मोबाइल शौचालयों आदि की फ्लीट का भी निरीक्षण किया.

भारद्वाज पार्क में लगेगी विशाल प्रतिमा

सीएम ने कहा कि प्रयागराज की पहचान महर्षि भारद्वाज से बनती है. इस धरती पर उनका आश्रम रहा है. इसलिए उनके नाम पर बनाये जाने वाले भव्य पार्क में उनकी विशाल प्रतिमा लगायी जाये तथा साथ ही उसकी पहचान जनसामान्य में सुगम कराने के लिए उसके ऐतिहासिक एवं पौराणिक सन्दर्भ पर आलेख एवं लेजर शो इत्यादि की व्यवस्था की जाए.

वेणीमाधव मंदिर में पूजा

इसके बाद सीएम ने अंदावा चौराहे का निरीक्षण कर सोहबतिया बाग डाट पुल से होते हुए अलोपीबाग होकर दारागंज तक गये. सीएम ने दारागंज में भगवान श्रीवेणीमाधव मंदिर पूजा-अर्चना भी की. उन्होंने मंदिर का नवीनीकरण कराये जाने का निर्देश भी दिया. वापसी में वह अलोपीबाग होते हुए परेड क्षेत्र में किले के अंदर गए और वहां सरस्वती कूप व अक्षयवट को देखा.

अधूरा नहीं रहेगा अखाड़े का काम

अरैल स्थित सच्चा बाबा आश्रम का निरीक्षण करने के बाद सीएम योगी ने बाघम्बरी गद्दी मठ में अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी के साथ फलाहार भोजन लिया. उन्होंने वचन दिया कि किसी भी अखाड़े का काम अधूरा नही रहेगा और समय रहते सभी को उचित धन आवंटित करा दिया जाएगा. कहा कि दीपावली के बाद तेरह अखाड़ों का भ्रमण वह स्वयं करेंगे.

जवानों संग खिंचाई फोटो

पुलिस लाइन पहुंचने पर सीएम ने शुक्रवार को संगम तट पर जांबाज करतब दिखाने वाले वायुसेना के जवानों के साथ ग्रुप फोटो खिचवाई.

नो इलाहाबाद, बोले प्रयागराज

पुलिस लाइन सभागार में मीडिया से अपने संबोधन में सीएम ने एक बार भी इलाहाबाद नाम नहीं लिया. उन्होंने हर बार प्रयागराज ही बोला. उन्होंने कहा कि जल्द ही शहर का नाम भी बदल दिया जाएगा. स्थलीय निरीक्षण में उनके साथ स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, स्टाम्प मंत्री नंदगोपाल गुप्ता नंदी, मेयर अभिलाषा गुप्ता नंदी, विधायक हर्षव‌र्द्धन बाजपेई, अपर पुलिस महानिदेशक एसएन साबत, कमिश्नर डॉ. आशीष गोयल डीएम सुहास एलवाई, एसएसपी नितिन तिवारी, अपर नगर आयुक्त ऋतु सुहास आदि मौजूद रहे.