बीजिंग (एएफपी)। चीन में रविवार से एक नियम लागू कर दिया गया है। दरअसल, अब से नया फोन नंबर लेने वालों को फेस (चेहरा) स्कैन कराना होगा। सूचना प्रौद्योगिकी अथॉरिटी ने इस नए नियम को लेकर सभी टेलीकॉम ऑपरेटरों को आदेश जारी कर दिया है। बता दें कि चीन के उद्योग और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने सितंबर में अपने लोगों के ऑनलाइन हितों की सुरक्षा करने के लिए एक नोटिस जारी किया था। इस नए नियम को उसी से जोड़कर देखा जा रहा है। टेलीकॉम ऑपरेटरों को जारी किए गए आदेश में कहा गया है कि कोई भी व्यक्ति जब नया फोन नंबर लेने आए तो उसकी पहचान वेरीफाई करने के लिए टेलीकॉम ऑपरेटर आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) और अन्य तकनीक का इस्तेमाल करें।

विभिन्न तरीके से कराना होगा फेस स्कैन

चीन की सरकारी दूरसंचार कंपनी चाइना यूनीकॉम के ग्राहक सेवा प्रतिनिधि ने बताया कि नए नियमों के अनुसार, नया फोन नंबर लेने वाले ग्राहकों को विभिन्न मुद्राओं में फोटो स्कैन कराना होगा। वहीं, जब सितंबर में नोटिस जारी किया गया था, तब बताया गया कि अगले चरण में मंत्रालय फोन नंबर के लिए वास्तविक नाम पंजीकरण को सख्ती से लागू करेगा।

नेपाल में दिखा चिनफिंग का तल्ख तेवर, कहा चीन को बांटने वालों की तोड़ देंगे हड्डी-पसली

नए नियम को लेकर लोग परेशान

सरकार के इस फैसले के बाद लोग सोशल मीडिया पर खूब अपनी प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। कुछ यूजर ने अपने बायोमीट्रिक डेटा लीक होने और बेचे जाने को लेकर चिंता जताई है। वहीं, एक यूजर ने लिखा है कि सरकार ने नियंत्रण करने की सभी हदें पार कर दी हैं। एक अन्य यूजर ने लिखा है कि नियंत्रण, अब और अधिक नियंत्रण। शोधकर्ताओं ने भी सरकार को फेस स्कैन के आंकड़ों को एकत्र करने से जुड़ी गोपनीयता के जोखिमों को लेकर चेतावनी दी है।

Posted By: Mukul Kumar

International News inextlive from World News Desk