-शहर के 7 इलाकों में सीएनजी किट फिटमेंट सेंटर शुरू

patna@inext.co.in

PATNA: पटना में लगातार बढ़ रहे प्रदूषण पर अब ब्रेक लगाने की तैयारी शुरू हो गई है. प्रदूषण के लिए सबसे ज्यादा जिम्मेदार सड़क पर दौड़ने वाले वाहनों को माना जाता है. अब इन वाहनों से प्रदूषण रोकने को लेकर पहल शुरू हो गई है. डीजल-पेट्रोल से चलने वाले वाहनों को अब सीएनजी से चलाने के लिए जागरूकता के साथ इस पर काम भी शुरू हो गया है. सीएनजी से गाडि़यों के चलने से प्रदूषण काफी कम हो जाएगा और वाहन मालिक भी कम खपत में अपनी गाडि़यों को धड़ल्ले से दौड़ाएंगे.

सीएनजी गाड़ी चलाने के लिए अब आपको इधर-उधर भटकना नहीं पड़ेगा. क्योंकि शहर के कई इलाकों में सीएनजी किट फिटमेंट सेंटर खोला गया है. जहां आप पेट्रोल व डीजल चलित पुराने वाहन को सीएनजी में बदलकर पैसों की बचत कर सकते हैं.

1 किलो में 18-20 किमी सफर

पेट्रोल की वर्तमान बाजार दर 76 रुपये है तथा औसतन शहरों में 10 से 12 किलोमीटर का सफर किया जाता है. जबकि एक किलो सीएनजी का औसत 18 से 20 किलोमीटर है. इसकी दर 60 रुपए 60 पैसे प्रति किलो है. इस प्रकार पेट्रोल चालित वाहन पर जहां लगभग 6 रुपए प्रति किलोमीटर औसत खर्च होता है वहीं सीएनजी चालित वाहन पर लगभग 3.30 रुपए प्रति किमी खर्च आता है.

सर्वाधिक ई-रिक्शा बिहार में

सूचना भवन में आयोजित परिवहन मंत्री संतोष कुमार निराला की पीसी के दौरान सीएनजी किट फिटमेंट सेंटर की औपचारिक उद्घाटन की जानकारी देते हुए मंत्री ने बताया कि पटना में पेट्रोल और डीजल चलित वाहनों में सीएनजी किट लगाए जा रहे हैं. साथ ही देश में सर्वाधिक ई रिक्शा परमिट देने वाले राज्य भी बिहार बन गया है. परिवहन सचिव संजय कुमार अग्रवाल आदि मौजूद रहे.

Posted By: Inextlive