-कोच स्थिति नहीं होने से पैसेंजर्स को होती है प्रॉब्लम, कई बार शो होती है गलत लोकेशन

-अफसर बोले सिस्टम अपडेट होने के बाद ही समस्या का होगा समाधान, ओल्ड सिस्टम से प्रॉब्लम

>

BAREILLY :

रेलवे जंक्शन पर ट्रेन संख्या और कोच स्थित बताने वाली डिस्प्ले ऑफ हो गई है. कोच स्थित डिस्प्ले ऑफ होने से पैसेंजर्स को कंफ्यूजन की स्थित बन जाती है. कई बार तो पैसेंजर्स की इसी कंफ्यूजन में ट्रेन भी छूट जाती है, लेकिन रेलवे के अफसरों को कोच की स्थित बताने वाली डिस्प्ले ठीक कराने की सुध नहीं आती है. लम्बे समय से खराब पड़ी डिस्प्ले के बारे में अफसरों से जानकारी ली तो उन्होंने बताया कि डिस्प्ले खराब है, लेकिन कभी-कभी चल जाती है.

गलत लोकेशन भी होती है शो

जंक्शन पर आने वाले पैसेंजर्स को इधर-उधर ट्रेन इंक्वायरी के लिए भटकना न पड़े इसके लिए रेलवे प्लेटफॉर्म पर ट्रेन संख्या और कोच स्थित शो करने के लिए वर्षो पहले डिस्प्ले लगाई गई थी, लेकिन यह डिस्प्ले काफी समय पहले ही खराब हो गई. खराब डिस्प्ले कभी-कभी तो चल जाती है लेकिन वह डिस्प्ले पर ट्रेन संख्या और कोच स्थित भी गलत शो कर देती है. इससे पैसेंजर्स कंफ्यूज हो जाते हैं. ऐसी स्थित में कई बार तो पैसेंजर्स की ट्रेन भी छूट जाती है. हालांकि इस मामले की पैसेंजर्स भी अफसरों से शिकायत करते हैं, लेकिन अफसरों के पास भी समस्या का कोई समाधान नहीं है.

काफी पुराना है सिस्टम

रेलवे जंक्शन पर बंद पड़े ट्रेन संख्या और कोच संख्या बताने वाले सिस्टम काफी पुराना हो चुका है. अफसरों का कहना है कि डिस्प्ले सिस्टम अपडेट हो जाएगा तभी ठीक से काम कर सकता है. क्योंकि इसे ठीक कराया तो वह कभी गलत लोकेशन देने लगता है तो कभी बंद हो जाता है. इसीलिए डिस्प्ले सिस्टम अपडेट होने के बाद ही समस्या परमानेंट दूर हो सकती है.

===============

पैसेंजर्स को कोई प्रॉब्लम न हो इसके लिए जंक्शन पर डिस्प्ले लगाई गई थी. ताकि पैसेंजर्स को दौड़ना न पड़े, लेकिन ठीक इसका उलट हो रहा है. डिस्प्ले होने के बाद भी पैसेंजर्स परेशान हो रहे हैं.

श्ानू काजमी

-----------------

स्टेशन पर लगी ट्रेन संख्या और कोच डिस्प्ले पर अपडेट मिलती रहे तो पैसेंजर्स को भी आसानी रहती है, लेकिन जब डिस्प्ले ही ऑन नहीं होती है तो पैसेंजर्स मजबूरी में इन्क्वायरी ऑफिस के बार-बार चक्कर लगाते हैं.

कामेश

-------------------

डिस्प्ले तो लगी हैं लेकिन उससे कोई लोकेशन ही नहीं मिलती है. पैसेंजर्स को इन्क्वायरी ऑफिस के चक्कर लगाना पड़ता है और ट्रेन रुकने पर कोच के लिए दौड़ भी लगानी पड़ती है इससे हादसे का डर रहता है.

मोनू

------------------------

जंक्शन पर डिस्प्ले सिस्टम कभी-कभी तो ऑन हो जाता है लेकिन वह फिर से बंद हो जाता है. डिस्प्ले सिस्टम पुराना है इसीलिए प्रॉब्लम आ रही है.

सत्यवीर सिंह, स्टेशन मैनेजर, बरेली जंक्शन