सीसीएसयू में होनी थी प्रतियोगी परीक्षा के लिए कोचिंग

आधा साल बीता पर नही शुरु हो पाई है कोचिंग

Meerut. सीसीएसयू में आधा साल बीतने के बाद भी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए कोचिंग शुरु नही हो पाई है. जबकि यूनिवर्सिटी में सभी स्टूडेंट्स के लिए यह व्यवस्था शुरु करने के लिए कहा गया था. लेकिन बजट पास होने के बाद भी कोचिंग शुरु नही हो पाई है, ऐसे में स्टूडेंट्स परेशान है उनको प्राइवेट कोचिंग का सहारा लेना पड़ रहा है या फिर सेल्फ स्टडी पर ही फोकस करना पड़ रहा है.

बजट था पर नहीं हुई व्यवस्था

यूनिवर्सिटी में स्टूडेंट्स के लिए कई तरह की सुविधाएं शुरु की गई है. इस साल से परिसर की पीएचडी करने वाले रिसर्चर को तीन हजार रुपए प्रतिमाह स्कालरशिप देने की सुविधा कर दी गई है. अच्छे रिसर्च को प्रोत्साहन देने के लिए 20 लाख रुपए का प्रबंध किया गया. ताकि परिसर में शोध की गुणवत्ता को बढ़ावा दिया जा सके. इन सभी का सीधे तौर पर लाभ होगा ऐसा कहा गया था.इसके साथ ही आईएएस, पीसीएस, नेट परीक्षा के लिए कोचिंग कराने की व्यवस्था भी की गई. इसके लिए यूनिवर्सिटी ने पांच लाख रुपए का प्रबंध किया था. यह सुविधा नहीं शुरु हो पाई है आधा साल बीत चुका है.

ये है परेशान

मैं यूनिवर्सिटी से ही ग्रेजुएशन कर रही हूं, इसके साथ ही पीसीएस की तैयारी कर रहा हूं, लेकिन यूनिवर्सिटी से कोई हेल्प नहीं हो पा रही है, प्राइवेट कोचिंग कर रहा हूं

मनु

कोचिंग नहीं चल रही है, हमें तो प्राइवेट ही कोचिंग लगानी पड़ेगी या फिर सेल्फ स्टडी करनी होगी यही लग रहा है.

मीनू

तैयारी चल रही है जल्द ही कोचिंग शुरु होगी, टीचर्स ऐसे स्टूडेंट्स की पर्सनली हेल्प कर देते है उनको नॉलेज देते है.

प्रो वाई विमला प्रोवीसी