सीसीएसयू ने कॉलेजों को दिया है रिमाइंडर

कॉलेज नहीं दे रहे स्टूडेंट्स की अटेंडेंस का डाटा

Meerut. सीसीएसयू व संबंधित कॉलेजों में स्टूडेंट्स की अटेंडेंस को लेकर यूनिवर्सिटी के पास डाटा नहीं पहुंचा है. यूनिवर्सिटी ने सभी कॉलेजों को रिमाइंडर भेजा है, यूनिवर्सिटी के अनुसार 10 प्रतिशत कॉलेजों ने ही इस साल स्टूडेंट्स की अटेंडेंस का आंकड़ा भेजा है वो भी सरकारी कॉलेज ही है, प्राइवेट कॉलेज ने तो डाटा भेजा तक नहीं है, ऐसे में यूनिवर्सिटी प्रशासन ने सख्ती बरतते हुए कॉलेजों को कहा कि अगर वो डाटा नहीं भेजते है तो इसका खामियाजा उनको भुगतना होगा.

नहीं दे रहे प्राइवेट कॉलेज डाटा

यूनिवर्सिटी के अनुसार दस प्रतिशत सरकारी कॉलेजों ने ही आधे साल का मंथ वाइज डाटा भेजा है. आधा साल निकलने बाद भी किसी भी प्राइवेट कॉलेज ने डाटा तक नहीं भेजा है, वहीं बचे हुए सरकारी कॉलेजों ने भी अटेंडेंस का डाटा नही दिया है. अगर कॉलेज ऐसे ही डाटा देने में लापरवाही करेंगे तो यूनिवर्सिटी स्तर से कार्रवाई होगी. यहां तक की रिजल्ट तक भी रोका जा सकता है, इसलिए समय पर डाटा देना होगा, बीते आधे साल का डाटा देने के लिए एक सप्ताह का समय कॉलेजों को दिया गया है.

न करें खेल

इसके साथ ही कॉलेजों में शार्ट अटेंडेंस स्टूडेंट की सेटिंग की शिकायतें भी आ रही है. जिसको लेकर यूनिवर्सिटी ने अब जांच की तैयारी की है, जांच टीम में पांच लोग है, जो दीपावली के बाद औचक निरीक्षण कर कॉलेजों के भेजे गए डाटा व कॉलेजों के डाटा मिलान करेंगे, अगर कोई दिक्कत मिलती है तो कार्रवाई होगी.

कॉलेजों से डाटा मांगा गया है, इसके लिए समय दिया गया है. अगर कोई फिर भी डाटा नहीं देता तो कार्रवाई की जाएगी.

प्रो. वाई विमला, प्रोवीसी, सीसीएसयू