-बरेली कॉलेज का मामला, कॉलेज प्रशासन ने शुरू की जांच

बरेली: बरेली कॉलेज एक बार फिर से चर्चा का केंद्र बन गया है। इस बार एक ¨हदूवादी छात्र संगठन से जुड़े छात्र ने राम मंदिर पर दूसरे विचारधारा के छात्र संगठन से जुड़े छात्र को धमकी भरे लहजे में विवादित टिप्पणी कर दी। मामला दो छात्र संगठनों से जुड़े होने के नाते आग की तरह कैंपस में फैल गया। तनाव बड़ा तो पुलिस और खुफिया एजेंसिया भी सतर्क हो गई। कॉलेज प्रशासन ने भी मामले में जांच शुरू कर दी है।

दूसरे संगठन से हुई कार्रवाई

आरोप है कि ¨हदूवादी विचारधारा वाले छात्र संगठन से जुड़े एक छात्र की दूसरे संगठन से जुड़े छात्र से कहासुनी हो गई थी। मामला यहां तक बढ़ गया कि छात्र ने राम मंदिर और जम्मू कश्मीर से समाप्त किए गए धारा 370 का विषय उठाते हुए दूसरे छात्र को देख लेने की बात कह डाली। आरोप यह भी है कि एक समुदाय विशेष पर भी टिप्पणी की गई। दूसरे छात्र ने इसे धमकी बताते हुए अपने साथियों से पूरी बात बताई तो कैंपस में तनाव का माहौल बन गया। सूचना एलआइयू और खूफिया एजेंसियों को हुई तो सभी कॉलेज कैंपस पहुंच गए। चीफ प्राक्टर डॉ। वंदना शर्मा ने बताया कि उन्हें इसकी सूचना मिली है लेकिन अभी तक पुष्टि नहीं हो पाई है। मामले की जांच चल रही है।

पुलिस पहुंची कैंपस, हुई पूछताछ

कैंपस में विवादित टिप्पणी पर तनाव के माहौल की सूचना मिलते ही पुलिस पहुंच गई। चौकी प्रभारी ने चीफ प्राक्टर से मुलाकात करते हुए उनसे पूरे मामले की जानकारी हासिल की।

हरकत में आए समाजवादी छात्रसभा के नेता

तनाव भरे माहौल के बीच समाजवादी छात्रसभा से जुड़े कई नेताओं की गतिविधियां भी कैंपस में बढ़ गई हैं। बताया जाता है कि जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने को लेकर कॉलेज में पिछले दिनों हंगामा करने वाले समाजवादी छात्रसभा के छात्र नेताओं का भी कॉलेज में मूवमेंट शुरू हो गया है। इसके चलते भी कॉलेज प्रशासन के साथ पुलिस व एलआइयू सतर्क हो गई है।

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner