-धूमधाम से मनाया गया संविधान दिवस

- मूल कर्तव्यों के पालन की ली शपथ व निकाली संविधान जागरूकता रैली

varanasi@inext.co.in

VARANASI

किसी भी राष्ट्र के शासन का आधार वहां का संविधान होता है. भारतीय संविधान को दुनिया के सर्वश्रेष्ठ संविधानों में से एक माना जाता है. इसका कारण है कि भारतीय संविधान में सभी को समानता का अधिकार दिया गया है. ख्म् जनवरी क्9भ्0 को भारतीय संविधान पूरे देश में प्रभावी हुआ था. लेकिन इससे पहले ख्म् नवंबर को भारतीय संविधान को स्वीकृति दी गई थी. इस अवसर पर शनिवार को नगर के विश्वविद्यालयों, महाविद्यालयों संस्थाओं में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया.

यहां हुए कार्यक्रम

बीएचयू के सेंट्रल ऑफिस में रजिस्ट्रार डीके उपाध्याय के नेतृत्व में कार्यक्रम का आयोजन किया गया. कार्यक्रम में उन्होंने संविधान की उद्देशिका का वाचन किया. इस अवसर पर वित्त अधिकारी डॉ. एमआर पाठक, संजय कुमार, डॉ. श्याम बाबू पटेल, डॉ. अवधेश कुमार के साथ अन्य लोग मौजूद रहे. कृषि विज्ञान संस्थान के निदेशक प्रो. रवि प्रताप सिंह ने संस्थान के छात्र व छात्राओं को संविधान में निष्ठा रखने की शपथ दिलाई. इसी तरह महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ के लॉ डिपार्टमेंट में सेमिनार का आयोजन किया गया. चीफ गेस्ट डॉ. एसपी मिश्र ने भारतीय संविधान के विभिन्न पहलुओं पर प्रकाश डाला. इस अवसर पर डॉ. एसपी सोम, हृदय नारायण पांडेय के साथ अन्य लोगों ने विचार व्यक्त किए. कार्यक्रम की अध्यक्षता डीन डॉ. सुरेंद्र बहादुर सिंह, संचालन डॉ. रंजन कुमार व धन्यवाद हेड प्रो. चतुर्भुज नाथ तिवारी ने की. सेमिनार के बाद संविधान जागरूकता रैली निकाली गई. वहीं महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ की सेवा योजना इकाई के स्वयंसेवकों द्वारा संविधान जागरूकता रैली निकाली गई. रैली का शुभारंभ सुतापा नाग ने झंडा दिखा कर किया. दी बनारस बार एसोसिएशन के सभागार में आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता अध्यक्ष अनूप कुमार श्रीवास्तव व संचालन महामंत्री नित्यानंद राय ने की. इस अवसर पर वरिष्ठ अधिवक्ता अरूण पांडेय, मान बहादुर सिंह, पुष्पराज सिंह, अभय यादव, केएलके चंदानी के साथ अन्य ने विचार व्यक्त किए. सनातन धर्म इंटर कॉलेज में आयोजित कार्यक्रम में अध्यापक, छात्र व कर्मचारियों ने संविधान में वर्णित मूल कर्तव्य के पालन की शपथ ली. शपथ डॉ. आशुतोष चतुर्वेदी ने दिलवाई. प्रधानाचार्य डॉ. हरेंद्र कुमार राय ने कहा कि संविधान का पालन करना ही देश की सच्ची सेवा है. डीरेका इंटर कॉलेज में सांस्कृतिक कार्यक्रम व संगोष्ठी का आयोजन किया गया. कार्यक्रम के मुख्य अतिथि उप मुख्य कार्मिक अधिकारी जनार्दन सिंह रहे. सुधाकर महिला विधि महाविद्यालय, पांडेयपुर में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि विधिक सेवा प्राधिकरण वाराणसी के सचिव व न्यायाधीश सुधाकर दुबे ने छात्राओं को संविधान दिवस के महत्व के बारे में बताया. लोकबंधु राजनारायण ला कॉलेज गंगापुर में कार्यक्रम का आयोजन किया गया. कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रबंधक सुभाष सिंह व संचालन डॉ. आलोक कुमार राय ने किया.