- स्कूली वाहनों को अब स्कूली परमिट लेना होगा अनिवार्य

- कहीं टूरिस्ट तो कहीं यूपी परमिट लेकर ढोए जा रहे हैं बच्चे

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW:

स्कूली वाहनों को अब स्कूली परमिट लेना अनिवार्य होगा. स्कूलों की संबद्धता दिखाकर या ठेका गाड़ी का परमिट लेकर वे स्कूली बच्चों को नहीं ढो सकेंगे. परिवहन विभाग ने यह फैसला स्कूली वाहनों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए लिया है. चेकिंग के दौरान जिन ऐसे वाहनों के पास स्कूली परमिट नहीं होगा, उन्हें परमिट लेने के लिए बाध्य ि1कया जाएगा.

अधिकतर वाहन ठेका परमिट पर

परिवहन विभाग के अधिकारियों के अनुसार अभी ठेका परमिट पर चले रहे अधिकतर वाहन स्कूली बच्चों को ढो रहे हैं. ऐसे में चेकिंग के दौरान ये वाहन स्कूली वाहनों के लिए बनाई गई गाइडलाइन से बच जाते हैं. यही नहीं ऑल इंडिया टूरिस्ट परमिट लेकर चलाए जा रहे वाहनों से भी बच्चों को स्कूल छोड़ने और लाने का काम किया जा रहा है.

बैठक में लिया गया निर्णय

परिवहन आयुक्त कार्यालय में हुई बैठक में शनिवार को हुई बैठक में स्कूली परमिट को अनिवार्य किए जाने का डिसीजन लिया गया. गौरतलब है कि राजधानी में इस समय करीब 6000 से अधिक स्कूली वाहन हैं, जबकि आरटीओ ऑफिस में सिर्फ 2800 वाहन ही स्कूली परमिट के नाम परर्ज हैं.

स्कूली बच्चों को ढोने वाले सभी वाहनों को स्कूली परमिट लेना अनिवार्य किया गया है. स्कूली परमिट लेने के बाद सभी वाहनों का डाटा आरटीओ ऑफिस आएगा जिससे इन्हें आसानी से पहचाना जा सकेगा.

गंगाफल, अपर परिवहन आयुक्त

सड़क सुरक्षा सेल

बंद किए जाएंगे वाहन

चेकिंग दस्ते को आदेश दिया गया है कि वे वाहन मालिक और ड्राइवरों को इसकी जानकारी दे दें. जिनके पास स्कूली परमिट नहीं होगा, उन्हें स्कूली बच्चों को ले जाने की अनुमति नहीं मिलेगी. चेकिंग के दौरान पहली बार उन्हें परिमट लेने के लिए कहा जाएगा. इसके बाद भी वह स्कूली परमिट नहीं लेते हैं तो उनके वाहन बंद किए जाएंगे.