- गुडंबा में किराए पर रह रहे युवकों की कोरोना रिपोर्ट आई पॉजिटिव, तीन दिन बाद भी गली मोहल्ला भी नहीं हुआ सेनेटाइज

- कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद भी मकान में रहने वाले का अब तक नहीं हुआ टेस्ट

LUCKNOW: कोरोना से लड़ने के लिए एक तरफ पुलिस, जिला प्रशासन व हेल्थ डिपार्टमेंट युद्ध स्तर पर जुटा है। वहीं गुडंबा के जानकीपुरम में एक कोरोना पॉजिटिव पेशेंट मिलने के तीन दिन बाद भी जिम्मेदार लापरवाह बने हुए हैं। अब तक पुलिस द्वारा ना तो इलाके में बेरिकेडिंग की गई और ना ही हेल्थ डिपार्टमेंट ने पेशेंट के साथ रहने वाले लोगों की जांच कराई। कोरोना मरीज मिलने से इलाके में हड़कंप मचा हुआ है। वहीं जिम्मेदार विभाग की ओर से कार्रवाई ना होने पर लोगों में रोष है।

फैक्ट्री में मेडिकल जांच के दौरान मिला पॉजिटिव

मूलरूप से कानपुर निवासी एक युवक बाराबंकी स्थित कोल्ड ड्रिंक फैक्ट्री में जॉब करता है। वह अपने दो दोस्तों के साथ गुडंबा थाना स्थित जानकीपुरम सेक्टर एच के फेस तीन में रहता है। युवक 14 मई को दो दोस्तों के साथ कानपुर से लौटा था और सभी ने फैक्ट्री में काम शुरू कर दिया। 18 मई को फैक्ट्री में युवक की कोरोना जांच हुई। वहीं 19 को आई रिपोर्ट में वह पॉजिटिव पाया गया। इसके बाद 20 मई को उसे लोकबुंध अस्पताल में भर्ती कराया गया।

मकान में रहने वाले का टेस्ट नहीं

युवक की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे तो भर्ती कराया दिया, लेकिन उसके साथ रहने और काम करने वाले दोस्तों की तीन दिन बाद भी कोरोना जांच नहीं की। इतना ही नहीं मामले की जानकारी होने के बाद भी गुडंबा पुलिस ने इलाके में बेरिकेडिंग नहीं की। साथ ही मकान मालिक और उसके दोस्तों को क्वारंटाइन नहीं कराया और ना ही निगरानी के लिए किसी को तैनात किया। कोरोना पॉजिटिव पेशेंट के मिलने से इलाके में हड़कंप मचा हुआ है। तीन दिन बाद भी जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और पुलिस की ओर से कार्रवाई ना करने पर स्थानीय लोगों में आक्रोश है।

रिपोर्ट आने के बाद सैंपल जांच

सीएमओ का कहना है कि कोरोना पॉजिटिव की रिपोर्ट आने के पांच दिन बाद ही पेशेंट के संपर्क में रहने वालों की जांच कराई जाती है, जिससे उनकी रिपोर्ट स्पष्ट हो सके। वहीं मामले के तूल पकड़ने पर शनिवार को मकान में रहने वाले और मोहल्ले के लोगों के सैंपल की जांच कराने की बात कही।

कोट।

संक्रमण के संपर्क में आने सभी लोगों की डिटेल आ गई है। शानिवार को सभी के सैंपल लेकर जांच के लिए भेजे जाएंगे। इस दौरान सभी लोगों को अपने घरों में ही क्वारंटाइन रहना होगा।

डॉ। नरेंद्र अग्रवाल, सीएमओ

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner