नई दिल्ली (पीटीआई/एएनआई)। Coronavirus कोरोना वायरस के प्रकोप से प्रभावी ढंग से निपटने के लिए अब भारतीय सेना भी मैदान में उतर चुकी है। 'हमसाया' होने की उम्मीदों पर खरा उतरते हुए और जरूरत के समय में लोगों की मदद के लिए निरंतर प्रयास करते हुए सेना ने जम्मू-कश्मीर में राशन का वितरण किया। इससे ग्रामीण, दैनिक श्रमिक और जरूरतमंद लोगों को काफी राहत मिल रही है। एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि आवाम की भलाई के लिए जमीनी स्तर पर पूरे घाटी में यह पहल की जा रही है। इसे बड़ी संख्या में लोगों तक पहुंचाया जा रहा है। आने वाले दिनों में सैकड़ों लोग इससे लाभान्वित होंगे। पूरे कश्मीर घाटी में कोराेना से बचने के लिए एहतियाती उपायों वाले पोस्टर और पंप लेट भी जारी किए हैं। इसके अलावा सेना ने कोराेना के खिलाफ 'ऑपरेशन नमस्ते लाॅन्च किया हैं। इस संबंध में आर्मी चीफ सेना प्रमुख मनोज मुकुंद नरवणे ने कहा कि भारतीय सेना कोरोना वायरस से लड़ने को तैयार है। सेना की ओर से देशभर में अब तक आठ क्वारेंटाइन सेंटर्स स्थापित किए जा चुके हैं।

मंटीलेयर हाई एडवांस्ड मास्क और बॉडीसूट बना रही डीआरडीओ

वहीं रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने मंटीलेयर हाई एडवांस्ड मास्क और बॉडीसूट सहित कई उत्पादों का उत्पादन करना शुरू कर दिया है। डीआरडीओ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि डीआरडीओ महत्वपूर्ण चिकित्सा आवश्यकताओं को देखते हुए बड़े पैमाने पर चार चीजों का उत्पादन कर रही है। इसमें हैंड सैनेटाइजर, क्रिटिकल केयर वेंटिलेटर, N99 मास्क और बॉडीसूट शामिल है। मार्च के तीसरे सप्ताह तक, बड़ी मात्रा में हैंड सैनेटाइजर उत्पादित किया गया था। इसे दिल्ली के भीतर प्रमुख कार्यालयों और प्रतिष्ठानों में वितरित किया गया था। वहीं लगभग 4,000 लीटर हैंड सैनेटाइजर को सशस्त्र बलों में भेजा गया है जिसमें सेना, नौसेना, वायु सेना और सशस्त्र बल मेडिकल कोर, डीएससी शामिल हैं।

आयुध निर्माणी बोर्ड (ओएफबी) की विनिर्माण इकाइयां बनी सैनेटाइजर

वहीं आयुध निर्माणी बोर्ड (ओएफबी) ने कोरोना वायरस के मामलों से निपटने के मदद के लिए आगे आई हैं। कोरोना वायरस की वजह से बाजार में बढी हैंड सैनेटाइजर की मांग को पूरा करने में कोलकाता आयुध निर्माणी बोर्ड (ओएफबी) की विनिर्माण इकाइयां जुट गई हैं। रक्षा मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा इन कारखानों ने कहा कि कोरोना की वजह से देश भर में हैंड सैनेटाइजर की मांग तेजी से बढ़ी है। ऐसे में इन आयुध निर्माणी बोर्ड में सैनेटाइटर का निर्माण शुरू कर दिया गया है।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner