गोरखपुर (उत्तर प्रदेश) (एएनआई)। Coronavirus Covid-19 impact गोरखपुर में गोरखनाथ मंदिर और बलरामपुर जिले के तुलसीपुर में मां पाटेश्वरी शक्तिपीठ मंदिर21दिनों के देशव्यापी लाॅकडाउन के कारण आम श्रद्धालुओं के लिए पूरी तरह से बंद हैं। बस मंदिरों में पुजारियों द्वारा केवल आरती जैसी अनुष्ठान की अनुमति है। राज्य सरकार के समर्थन में विस्तार करते हुए, मंदिर जरूरत पड़ने पर भोजन और दवाओं के साथ लॉकडाउन से प्रभावित लोगों की मदद करने के लिए तैयार हैं। प्रवक्ता ने कहा वैसे तो जिला प्रशासन मजदूरों और वंचित लोगों को सहायता प्रदान कर रहा है, लेकिन अगर उसके बाद भी कहीं भोजन के पैकेट की आवश्यकता होती है, तो दोनों मंदिरों के ट्रस्ट इसे प्रदान करने के लिए तैयार हैं।

देवीपाटन मंदिर ट्रस्ट के पास भी एक 50 बेड वाला हाॅस्पिटल

इसके साथ ही, गोरखपुर में गोरखनाथ मंदिर ट्रस्ट की ओर से संचालित गुरु गोरखनाथ अस्पताल वेंटिलेटर के साथ आईसीयू में 10 बेड के साथ 300 बेड की सुविधा प्रदान कर रहा है। वहीं देवीपाटन मंदिर ट्रस्ट के पास भी एक 50 बेड वाला हाॅस्पिटल है। गोरखपुर और बलरामपुर जिला प्रशासन कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनजर दोनों अस्पतालों का उपयोग कर सकता है। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार, शनिवार को भारत में कोरोना वायरस से पीड़ितों की संख्या बढ़कर 873 हो गई। वहीं 19 लोगों की अब तक माैत हो चुकी है। मंत्रालय के अनुसार, 180 मामलों के साथ, महाराष्ट्र में पहले नंबर पर है। वहीं 173 मामलों की पुष्टि के साथ केरल सूची में दूसरे स्थान पर है।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner