कानपुर। Coronavirus Impact : कोरोना के डर से देश में सिर्फ माॅल और जिम जैसे पबल्कि गेदरिंग प्लेस ही नहीं बल्कि मंदिरों और तीर्थ स्थलों को भी बंद किया जा रहा है। तो चलिए जानते हैं कि किन- किन हिंदू तीर्थ स्थलों व मंदिरों को ब तक बंद किया जा चुका है। इसमें सबसे पहले बात करते हैं पुरी जगन्नाथ की।

पुरी जगन्नाथ
पीटीआई की एक रिपोर्ट के अनुसार पुरी जग्गनाथ के एक शीर्ष अधिकारी ने मंदिर के शुक्रवार से यानि कि 20 मार्च से 31 मार्च तक बंद रहने का ऐलान किया। हालांकि मंदिर के अंदर हमेशा की तरह विधि- विधान से पूजन जारी रहेगा क्योंकि मंदिर के अंदर सिर्फ सेवादारों को ही आने की अनुमति दी गई है।

वैष्णो देवी मंदिर

एएनआई के ट्वीट के मुताबिक जम्मू- कश्मीर सरकार ने मां वैष्णो देवी की यात्रा पर रोक लगा दी है। माना जा रहा है कि नवरात्रि आने वाली हैं और अचानक से यहां श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ सकती है इसलिए यात्रा को रोका गया है।

सिद्धिविनायक मंदिर बंद

न्यूज एजेंसीज के मुताबिक महाराष्ट्र में कोरोना वायरस की वजह से सिद्धिविनायक मंदिर को बंद करने का फैसला लिया गया। इसी के साथ वहां कई मुख्य पर्यटन स्थलों पर भी जाने से रोक लगा दी गई है। इसमें सिद्धिविनायक मंदिर समेत अजंता और एलोरा की गुफाएं व तुलजाभवानी मंदिर भी बंद है।

वाराणसी घाट पर गंगा आरती सार्वजनिक नहीं

वाराणसी के दशाश्वमेध घाट पर हर शाम मां गंगा की भव्य आरती होती है। घाट पर प्रतिदिन होने वाली इस आरती में भी कोरोना वायरस का असर पड़ रहा है। दरअसल वाराणसी के डीएम कौशल राज शर्मा की मानें तो गंगा आरती में लोगों के आने पर रोक लगा दी गई है। हालांकि आरती हर दिन की जाएगी। काशी विश्वनाथ मंदिर के गर्भगृह में भी श्रद्धालुओं के प्रवेश पर रोक लगा दी गई है।

Posted By: Vandana Sharma

Spiritual News inextlive from Spiritual News Desk