पेरिस (रॉयटर्स) दुनिया भर में कोरोना वायरस से मरने वालों संख्या 379000 पार गई है। बुधवार की सुबह तक, वैश्विक स्तर पर इस बीमारी से कुल 379,433 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं, जबकि दुनिया भर में कोरोना पॉजिटिव मामलों की संख्या अब 6,390,543 तक पहुंच गई है। इसके अलावा, इस खतरनाक बिमारी से दुनिया भर में 2,672,093 लोग उबर भी गए हैं। वहीं, सबसे अधिक संक्रमितों के मामले में ब्राजील दूसरे नंबर पर पहुंच गया है। यहां 555,383 लोग संक्रमित हो गए हैं, जबकि इस बीमारी से 31,199 लोगों की मौत हो चुकी है।

अमेरिका का हाल

इस वक्त, अमेरिका में सबसे अधिक 1,838,513 लोग इस वायरस के चपेट में हैं। वहीं, दुनिया में अमेरिका ऐसा पहला देश है, जहां इस वायरस से सबसे अधिक 106,058 मौतें हुईं हैं। इसके अलावा यहां 430,711 लोग इस बीमारी से ठीक हो गए हैं। न्यूयॉर्क शहर अमेरिका में सबसे अधिक प्रभावित कोरोना वायरस क्षेत्र है। अकेले न्यूयॉर्क में इस वायरस ने अब तक 24,023 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं, यहां अब तक 3.73 लाख से अधिक मामले सामने आ चुके हैं।

यूरोप का हाल

यूरोपियन देश भी इस वायरस से सबसे अधिक प्रभावित हैं। पूरे यूरोप में 175,184 मौतें हुई हैं। इस महामारी की शुरुआत के बाद से फ्रांस में अब तक 28,457 मौतें दर्ज की गई हैं। इसके अलावा इस देश में 189,220 लोग कोरोना से संक्रमित हैं। वहीं, स्पेन में मृतकों की कुल संख्या अब 27,127 हो गई है। यूरोपियन देश की बात करें तो स्पेन (257,786) और लंदन (277,985) में सबसे अधिक लोग संक्रमित हैं। वहीं, इटली में इस वायरस से 233,515 लोग संक्रमित और 33,530 मौतें हो चुकी हैं। वहीं, जर्मनी में भी तेजी से इस वायरस का प्रसार हो रहा है। अब तक वहां कोरोना के 182,155 मामले सामने आ चुके हैं। इसके अलावा, यहां 8,549 लोगों की मौत हुई है। अगर ब्रिटेन की बात करें तो यहां कोरोना 39,369 लोगों की जान ले चुका है। बता दें कि यूरोप में कई जगहों पर लॉकडाउन में ढील दी गई है।

रूस का हाल

इसके अलावा, दुनिया में सबसे अधिक संक्रमितों के मामले में रूस तीसरा देश बन गया है। यहां कोरोना से संक्रमित होने वालों की संख्या बढ़कर 423,741 हो गई है। अब तक कोरोना से देश में 5,037 लोगों की मौत हो गई है। हालांकि, सही संख्या अधिक मानी जा रही है क्योंकि सभी का परीक्षण नहीं किया गया है। पूरे रूस की बात करें तो मॉस्को में आधा से ज्यादा कोरोना के मामले हैं और यहां वायरस के कारण ही सभी लोगों को सांस से जुड़ी समस्या होने की संभावना है।

Posted By: Mukul Kumar

International News inextlive from World News Desk