नई दिल्ली/गुजरात (एजेंसियां)। मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने कोरोना वायरस से लडऩे के लिए अपनी ओर से एक कदम आगे बढ़ाया है। सचिन ने 50 लाख रुपये दान करने का निर्णय लिया है। सूत्रों की मानें तो तेंदुलकर ने जागरूकता वीडियो पोस्ट करने के अलावा महामारी से लडऩे में मदद करने के लिए पैसे दान करने का भी फैसला किया है। सचिन जागरूकता पैदा करने के लिए नियमित रूप से सोशल मीडिया पर वीडियो पोस्ट कर रहे हैं। मगर अब उन्होंने प्रधान मंत्री राहत कोष और मुख्यमंत्री राहत कोष में प्रत्येक में 25-25 लाख रुपये दान करने का निर्णय लिया है।

सौराष्ट्र क्रिकेट ने दिए 42 लाख रुपये

सचिन के अलावा सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन ने कोविड 19 प्रकोप के खिलाफ लड़ाई में सहायता के लिए प्रधानमंत्री राहत कोष और गुजरात के मुख्यमंत्री राहत कोष में से प्रत्येक को 21 लाख रुपये की राशि दान करने का संकल्प लिया है। सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन ने कहा, 'एपेक्स काउंसिल की ओर से अध्यक्ष जयदेव शाह और सचिव हिमांशु शाह भारत राहत कोष के लिए 21 लाख रुपये और गुजरात राहत कोष के लिए 21 लाख रुपये के दान की घोषणा करते हैं।' इसी के साथ भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन के पूर्व सचिव, निरंजन शाह ने भी लोगों से घर पर रहने का आग्रह किया। शाह ने एक बयान में कहा, "सौराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन ने नोवेल कोरोना वायरस महामारी की चुनौतीपूर्ण स्थिति में भारत के नागरिकों के लिए सभी देखभाल और चिंता की है। हम सभी भारतीयों से घर के अंदर रहने, फिट रहने और सुरक्षित रहने का अनुरोध करते हैं।'

हिमा दास ने दान की सैलरी

इंडियन स्प्रिंटर हिमा दास ने भी कोरोना वायरस महामारी से निपटने के लिए अपनी एक महीने की सैलरी दान करने का निर्णय लिया है। दास असम के कोविड-19 राहत कोष में अपना वेतन दान करेंगी। हिमा ने ट्विटर पर लिखा, "दोस्तों यह एक साथ खड़े होने और समर्थन करने का समय है। मैं असम सरकार को 1 महीने का वेतन दे रही हूं। आरोग्य निधि खाता स्वास्थ्य की सुरक्षा के लिए बनाया गया है। कोविड-19 के मद्देनजर, लोगों ने गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल, खेल मंत्री किरेन रिजिजू और असम के स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा को संबोधित करते हुए ट्वीट किया।

पूर्व क्रिकेटर लक्ष्मी रतन शुक्ला ने भी किया योगदान

भारत के पूर्व क्रिकेटर लक्ष्मी रतन शुक्ला, जो वर्तमान में पश्चिम बंगाल के खेल मंत्री हैं, ने अपने तीन महीने के विधायक वेतन के साथ-साथ बीसीसीआई पेंशन दान करने का फैसला लिया है। शुक्ला ने शुक्रवार को पीटीआई को बताया, 'यह समय की जरूरत है कि हम सभी अपनी क्षमताओं का सर्वश्रेष्ठ योगदान दें। मैंने अपने विधायक के वेतन के तीन महीने पहले ही मुख्यमंत्री राहत कोष में दान कर दिए हैं। इसके अलावा, मुझे बीसीसीआई से पेंशन मिलती है। उसे भी दान कर दिया है।' शुक्ला ने 1999 में भारत के लिए तीन वनडे खेले हैं। वह घरेलू क्रिकेट में एक प्रतिष्ठित ऑलराउंडर रहे। उन्होंने 100 से अधिक प्रथम श्रेणी मैचों में बंगाल और पूर्वी क्षेत्र का प्रतिनिधित्व किया और आईपीएल विजेता कोलकाता नाइट राइडर्स टीम का हिस्सा भी रहे।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk

inext-banner
inext-banner