नई दिल्ली (आईएएनएस) कोरोना वायरस से देश के अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान झेलना पड़ा रहा है। केंद्र सरकार इस महामारी को देखते हुए जल्द ही आर्थिक पैकेज ला सकती है ताकि अर्थव्यवस्था को गहरी क्षति पहुंचने से रोका जा सके। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की एक ट्वीट से इस बात का संकेत मिला है, जहां उन्होंने यह भी कहा कि मंगलवार को दोपहर 2 बजे एक प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित किया जाएगा। उन्होंने बताया कि यह प्रेस कांफ्रेंस विशेष रूप से वैधानिक और नियामक अनुपालन मामलों पर आधारित होगा।

मीडिया को संबोधित करेंगी वित्त मंत्री

वित्त मंत्री ने अपनी ट्वीट में कहा, 'हम कोरोना लॉकडाउन से मदद करने के लिए एक आर्थिक पैकेज तैयार कर रहे हैं। मैं आज दोपहर 2 बजे मीडिया को संबोधित करूंगी।' बता दें कि भारतीय अर्थव्यवस्था जो कोरोना वायरस महामारी के प्रकोप से पहले से ही धीमी हो गई है, आने वाले महीनों में इसके लिए कठिनाई और बढ़ने वाली है क्योंकि इस महामारी से व्यवसायों में काफी नुकसान पहुंच रहा है। सिस्टम में तरलता बरकरार रहने के लिए वित्त मंत्रालय और RBI ने कई कदम उठाए हैं। लेकिन उद्योग ने अवसाद से लड़ने के लिए और अधिक प्रोत्साहन के उपाय का आह्वान किया है।

भारत में बढ़ रही है कोरोना पीड़ितों की संख्या

बता दें कि भारत में काेराेना वायरस के पीड़ितों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। मंगलवार को स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा सुबह अपडेट किए गए आंकड़ों के अनुसार, COVID-19 मामलों की कुल संख्या 492 पहुंच गई है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि इस आंकड़े में करीब 41 विदेशी नागरिक और अब तक दर्ज नौ मौतें शामिल हैं। देश भर में 22 नये मामले सामने आने के बाद कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 446 हैं। वहीं कोरोना वायरस के करीब छत्तीस लोगों को ठीक किया गया है। देश में जिस तरह से हाल के दिनों में कोराेना वायरस फैला है उस पर लगाम लगाने के लिए केंद्र सरकार व राज्य सरकार पूरी तरह से एक्टिव है। देश में कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए अधिकारियों ने 31 मार्च तक लगभग पूरे देश को लाॅकडाउन कर दिया है।

Posted By: Mukul Kumar

Business News inextlive from Business News Desk