मैड्रिड (आईएएनएस) स्पेन ने कोरोना वायरस का पता लगाने वाले चीनी किट में खराबी पाए जाने के बाद उसका उपयोग करना बंद कर दिया है। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, स्पेन ने पाया कि रैपिड टेस्ट किट कोरोना पॉजिटिव मामलों का पता लगाने में असमर्थ है। बता दें कि स्पेन ने अब तक कोरोना वायरस के 57,786 मामलों की पुष्टि की है और यूरोप में इटली के बाद यहां सबसे बुरा हाल है। 4,000 से अधिक लोगों की मौत के साथ इस वायरस ने स्पेन को बड़ा नुकसान पहुंचाया है। चीन की तुलना में कम पुष्ट मामलों के साथ, स्पेन में इससे अधिक मौत के मामले हैं।

किट में केवल 30 प्रतिशत सेंसिटिविटी

इसी बीच, स्पेन के विशेषज्ञ इस नतीजे पर पहुंचे हैं कि चीन के किट पॉजिटिव कोरोना मामलों का पता लगाने में विफल हो रहे हैं। स्पेनिश अखबार एल पेस ने एक रिपोर्ट में कहा है कि चीनी किट में केवल 30 प्रतिशत सेंसिटिविटी है और यह सिर्फ 30 प्रतिशत पॉजिटिव मामलों का पता लगाने में सक्षम है जबकि प्रभावी होने के लिए इसे कम से कम 80 प्रतिशत सेंसिटिव होने की आवश्यकता है। स्पेन के सेंटर फॉर हेल्थ अलर्ट्स एंड इमरजेंसी के निदेशक फर्नांडो साइमन ने कहा है कि चीन से लाई गई 9,000 टेस्ट किट में से 'काफी अच्छी नहीं' पाई गईं हैं और इसलिए स्पेन ने उन्हें वापस करने का फैसला किया है। वहीं, कार्लोस III हेल्थ इंस्टीट्यूट के एक प्रवक्ता ने भी बताया कि चीन के टेस्ट किट लौटाए जाएंगे और सरकार द्वारा अनुमोदित नई टेस्ट किट लॉन्च की जाएंगी।

चीन ने अभी तक नहीं दिया है जवाब

बता दें कि रैपिड टेस्ट किट कथित तौर पर चीनी कंपनी बायोएस्सी द्वारा निर्मित हैं। इसी तरह की किट जॉर्जिया और चेक गणराज्य सहित कई अन्य देशों को आपूर्ति की गई हैं। चेक गणराज्य ने भी यह पुष्टि की कि चीन के रैपिड टेस्ट किट अपेक्षित क्षमता पर काम नहीं कर रहे हैं। हालांकि, चीन ने अभी इस आरोपों का जवाब नहीं दिया है।

चिकित्सा आपूर्ति की भारी कमी

इसके अलावा, स्पेन ने कहा कि यह कोरोना से तेजी से बढ़ती मौत की संख्या को रोकने के लिए चिकित्सा आपूर्ति की भारी कमी से लड़ रहा है। स्पेन के इन्फंटा लियोनोर अस्पताल में एक डॉक्टर एना गिमनेज ने कनाडाई ब्रॉडकास्टिंग कॉर्पोरेशन (सीबीएस) को बताया कि अस्पताल में मास्क, गाउन, बेड और यहां तक ​​कि दवा सहित महत्वपूर्ण आपूर्ति की कमी है। उन्होंने कहा, ' "स्पेन में एक शानदार स्वास्थ्य प्रणाली है। हमारी शानदार स्वास्थ्य प्रणाली ओवरलोडेड है और अब बिल्कुल नष्ट हो गई है।' इसके बाद यह पूछे जाने पर कि क्या डॉक्टरों के पास कोरोना मामलों से खुद को बचाने के लिए उपकरण हैं, तो उन्होंने जवाब दिया, 'जब मैं पहुंची, तो उन्होंने मुझे P3 मास्क दिया और मुझसे कहा कि यह सप्ताह के लिए है और यह मास्क माना जाता है कुछ घंटों के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है।'

Posted By: Mukul Kumar

International News inextlive from World News Desk

inext-banner
inext-banner