- सिटी में बजाए गए करीब 12 करोड़ से अधिक के पटाखे

- शाम से ही शुरु होकर देर रात तक जगमगाता रहा आसमान

GORAKHPUR: बुधवार को दिवाली का जश्न बड़ी ही धूम धाम के साथ मनाया गया. इस मौके पर गोरखपुराइट्स ने करोड़ों रुपए की आतिबाजी कर डाली. शाम को शुरु हुआ आतिशबाजी का सिलसिला देर रात तक चलता रहा. इसमें बच्चों से लेकर बुजुर्ग और महिलाओं ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया. पटाखा कारोबारियों की मानें तो इस बार की दिवाली में करीब 12 करोड़ रुपए से अधिक की आतिशबाजी की गई है. खास बात यह देखने को मिली कि तेज आवाज वाले पटाखे काफी कम बजाए गए. इसमें ज्यादतर चाइनीज और फैंसी पटाखों की ही इस बार ज्यादा बजाए गए. नाम न छापने की शर्त पर व्यापारियों ने बताया कि इस बार सिर्फ नखास चौक और घंटाघर की मार्केट से ही करोड़ों रुपए के पटाखे बेचे गए. इसके आलावा सिटी के 13 जगहों पर मैदानों में भी पटाखों की दुकानों से भी पटाखों की अच्छी खासी खरीदारी की गई.

कम बजे तेज आवाज वाले पटाखे

इस बार सिटी में पटाखों को लेकर पब्लिक काफी अवेयर दिखी. आतिशबाजी तो जमकर हुई, लेकिन इस बार गोरखपुराइट्स ने एनवायर्नमेंट सेफ करने के लिए खुद पहल करते हुए तेज आवाज वाले पटाखों से खुद को किनारे रखा. व्यापारियों के मुताबिक भी ऐसे पटाखों की बिक्री भी काफी कम हुई. इस बार अनार, चकरी, रॉकेट, स्पेशल शॉट, राइडर, चटाई जैसे कम आवाज वाले पटाखे ही डिमांड में रहे. व्यापारी बताते हैं इस बार यहां की पब्लिक भी इतनी अवेयर रही कि ज्यादतर लोगों ने सुरक्षा की दृष्टि से ब्रांडेड पटाखे ही खरीदें

चाइनीज पटाखों की रही धूम

इस बार दिवाली में पटाखे काफी महंगे होने की वजह से चाइनीज पटाखों की धूम मची रही. इनमें खासियत यह रही कि इन पटाखों के रेट्स जहां दूसरे पटाखों से काफी कम रहे, वहीं ज्यादतर उपर जाकर बजने वाले पटाखे थे, जिससे दुर्घटना की संभावना काफी कम थी. साथ ही इन पटाखों में इतनी वेराइटी और खूबसूरती थी कि जब यह आसमान की ओर जाकर छूट रहे थे तो ऐसा लग रहा था कि पूरा आसमान ही पटाखों की रोशनी से जगमगा उठा है.