ग्रामीणों ने रिंगरोड पर लगाया जाम, पुलिस सहित कई वाहनों पर पथराव

शिवपुर थाना क्षेत्र के दादूपुर में अचानक कार पलटने से हुआ हादसा

शिवपुर थाना के दादूपुर रिंग रोड के समीप गुरुवार की रात अनियंत्रित होकर पलटी कार में सवार दो युवकों की मौत हो गई. रात से लापता एक युवक का शव शुक्रवार दोपहर में बरामद होने के बाद ग्रामीणों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए प्रदर्शन शुरू कर दिया. इस दौरान पुलिस पर पत्थरबाजी भी हुई. भीड़ को तितर-बितर करने में पुलिस को हल्का बल प्रयोग करना पड़ा.

140 की स्पीड में पलटी कार

गुरुवार की रात लगभग डेढ़ बजे इको स्पोर्ट कार में सवार चार युवक चांदमारी की ओर जा रहे थे. कार की रफ्तार 140 थी. डीह बाबा मंदिर के पास कार पहुंची थी तभी अचानक सामने आए कुत्ते को बचाने में चालक हिमांशु ने हैंडब्रेक मार दिया. इससे कार अनियंत्रित होकर 20 फीट ऊपर लहराते हुए पलट गई. चालक हिमांशु पाण्डेय निवासी गोसाईपुर थाना चोलापुर ने मौके पर ही दम तोड़ दिया. कार में सवार विजयी 17 वर्ष व सर्वेश निवासी भुसौला थाना चोलापुर वाराणसी बुरी तरह जख्मी हो गये. कार में सवार करन गिरी 18 वर्ष भुसौला थाना चोलापुर पानी के बीच कीचड़ में फंस गया. उसे रात में ढूढ़ा गया लेकिन नहीं मिला. आसपास ग्रामीणों की मानें तो एक्सीडेंट की आवाज इतनी भयावह थी कि जैसे कोई पहाड़ टूट कर नीचे गिरा हो. परिजनों का आरोप है कि शिवपुर थानाध्यक्ष विश्वनाथ प्रताप सिंह समेत चौकी प्रभारी चांदमारी गिरधारी यादव घटनास्थल पर पहुंचे.

मिला शव तो भड़के ग्रामीण

रात से ही लापता करन गिरी को पुलिस अल सुबह तक नहीं ढूंढ़ सकी थी. जैसे ही दोपहर में फायर ब्रिगेड की टीम पहुंची और करन का शव कीचड़ से बरामद हुआ तो ग्रामीण उग्र हो गए. पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए रिंग रोड जाम कर दिया. परिजनों का आरोप था कि पुलिस यदि रात में ही सर्च अभियान चलाती तो शायद करन की जान बच जाती. सीओ कैंट डॉ. अनिल कुमार ने ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया लेकिन वे मानने को तैयार नहीं थे. इसी बीच किसी ने पुलिस पर पथराव कर दिया. भीड़ नियंत्रित करने के लिए पुलिस को लाठियां भांजनी पड़ी.