पिसौर पुल के पास मुठभेड़, क्राइम ब्रांच के सिपाही के हाथ व बदमाश के पैर में लगी गोली

दोनों अस्पताल में भर्ती, बदमाश पर बनारस सहित गाजीपुर में दर्ज हैं 20 से अधिक केस

बनारस सहित गाजीपुर में हत्या, लूट और रंगदारी के लिए कुख्यात 25 हजार के इनामी बदमाश राजू बिहारी को क्राइम ब्रांच व लोहता पुलिस ने बुधवार की रात मुठभेड़ के बाद दबोच लिया. लोहता थाना के पिसौर पुल के पास फायरिंग में क्राइम ब्रांच का सिपाही संजय भी गोली लगने से घायल हो गया. संजय को दाहिने हाथ में गोली लगी है. पुलिस की गोली बदमाश राजू के पैर में लगी. राजू पर विभिन्न धाराओं में 20 से अधिक आपराधिक मुकदमे दर्ज हैं.

अचानक शुरू की फायरिंग

लोहता पुलिस पिसौर पुल पर वाहनों की चेकिंग कर रही थी. तभी सूचना मिली कि 25 हजार का इनामी बाइक से इसी रास्ते से गुजरने वाला है. पुलिस ने आसपास के आधा दर्जन थानों को सतर्क करते हुए घेराबंदी की. तब तक क्राइम ब्रांच प्रभारी विक्रम सिंह भी टीम के साथ मौके पर पहुंच गए. पुलिस की घेराबंदी की भनक लगते ही बदमाशों ने फायरिंग शुरू कर दी. गोली लगने से सिपाही संतोष पासवान घायल हो गया. इसके बाद पुलिस टीम ने जवाबी फायरिंग शुरू की तो पैर में गोली लगने से बदमाश राजू जख्मी हो गया. उसे जिला अस्पताल में एडमिट कराया गया है. सिपाही को प्राइवेट हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया है. घायल जवान का हाल जानने एसएसपी आनंद कुलकर्णी समेत कई अधिकारी अस्पताल पहुंचे.

गूंजी गोलियों की तड़तड़ाहट

शाम के समय पिसौर पुल के आसपास लोग आपस में व्यस्त थे. अचानक गोलियों की तड़तड़ाहट शुरू हुई तो गुमटी और ठेले वाले दुकान बंद कर भागने लगे. उन्हें लगा कि गैंगवार शुरू हो गई है. कई राउंड फायरिंग के बाद माहौल शांत हुआ तो पता चला कि पुलिस व बदमाशों में मुठभेड़ हुई है. लोहता, मंडुवाडीह, लक्सा, सिगरा, रोहनिया, शिवपुर सहित अन्य थानों की फोर्स भी मौके पर पहुंची. एसपीआरए मार्तण्ड प्रकाश सिंह समेत अन्य कई अधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे और जांच की.

पुलिस की नाक में किया था दम

हाल के दिनों में कई लूट, छिनैती की घटनाओं में राजू बिहारी का नाम उछला था. हाईवे पर इसका आंतक कुछ अधिक ही है. गाजीपुर में हत्या, हत्या के प्रयास के कई मुकदमे इसके नाम पर हैं. आईजी रेंज ऑफिस ने इस पर 25 हजार का इनाम घोषित किया था. गिरफ्तारी से बचने के लिए राजू मोबाइल का यूज नहीं करता था. यही कारण था कि वह पुलिस की पकड़ में नहीं आ रहा था.