-सुंदरपुर इलाके के बटुआपुरा नाले में मिला शव, गुरुवार की दोपहर से था गायब

लंका थाना एरिया में हत्याओं का सिलसिला नहीं थम रहा है. बीएचयू दुकानदार रामू के हत्यारे पकड़े भी नहीं जा पाए थे कि बदमाशों ने नाबालिग बालक की गला रेत हत्या कर लंका पुलिस की परेशानी और बढ़ा दी. कबाड़ बीनने वाले किशोर की हत्या कर उसका शव सुंदरपुर इलाके में बटुआपुरा नाले में फेंक दिया. गर्दन और पेट पर चोट के गहरे निशान थे. धारदार हथियार से उसपर वार किया गया था. शुक्रवार सुबह जब क्षेत्रीय लोग उधर से गुजरे तो शव देखकर पुलिस को सूचना दी.

दोस्त के घर जाने के बाद नहीं लौटा

लंका पुलिस किशोर की शिनाख्त के लिए प्रयास कर रही थी कि बजरडीहा में रह रहीं रबीना बीबी गुरुवार दोपहर से लापता बेटे छोटू (14 वर्ष) की तलाश करते-करते वहां पहुंची. पुलिस ने जैसे ही फोटो दिखाई उसकी चीख निकल पड़ी क्योंकि शव उसके बेटे का था. बीरभूम वेस्ट बंगाल निवासी मृतक की मां रबीना बीबी ने बताया कि बेटा छोटू दोपहर में पतंग उड़ा रहा था. इसके बाद वह मंडुवाडीह जाने की बात कहकर घर से निकला था लेकिन पूरी रात नहीं आया. परिवार बजरडीहा में किराए के मकान में रहता है. छोटू के पिता अलाउद्दीन की दो वर्ष पहले मौत हो चुकी है. लंका इंस्पेक्टर भारत भूषण तिवारी ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है. छोटू के दोस्तों से पूछताछ के आधार पर कुछ लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही.