नई दिल्ली (एएनआई/आईएएनएस)। चक्रवाती तूफान 'बुलबुल' ने इन दिनों पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों और ओडिशा में कहर बरपा रखा है। तूफान 'बुलबुल' की वजह से अब तक पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तीन लोगों की मौत हो चुकी है। पश्चिम बंगाल के दक्षिण 24 परगना जिले के बशीरहाट शहर में पेड़ गिरने से एक व्यक्ति की मौत हो गई। वहीं ओडिशा में एक व्यक्ति की डूबने व एक पर दीवार गिरने से माैत हो गई।  इसके अलावा इसने हजारों घरों, पेड़ों को उखाड़कर और सैकड़ों फोन टावरों को तबाह कर दिया है।

चक्रवाती तूफान 'बुलबुल' से पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तबाही,3 लोगों की माैत,पीएम ने सीएम ममता से की बात

पश्चिम बंगाल में बड़ी संख्या में लोग सुरक्षित स्थान पर पहुंचाए गए

हालांकि  'गंभीर' चक्रवाती तूफान बुलबुल अब कमजोर हो गया है और अब उसका केंद्र बांग्लादेश है। पश्चिम बंगाल में बड़ी संख्या में लोग सुरक्षित स्थान पर पहुंचाए गए हैं। शासन से लेकर प्रशासन तक हालातों पर काबू पाने के लिए अलर्ट है। वहीं पीएम नरेंद्र मोदी ने भी आज पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से चक्रवात बुलबुल के संबंध में बातचीत की। उन्हें केंद्र से हर संभव मदद का आश्वासन दिया। पीएम ने चक्रवात की स्थिति और पूर्वी भारत के हिस्सों में भारी बारिश के मद्देनजर स्थिति की समीक्षा भी की।

चक्रवाती तूफान 'बुलबुल' से पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तबाही,3 लोगों की माैत,पीएम ने सीएम ममता से की बात

पीएम नरेंद्र मोदी ने दिया सीएम ममता बनर्जी को मदद का आश्वासन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए इसकी जानकारी दी। तूफान बुलबुल की वजह से पश्चिम बंगाल में काफी नुकसान हुआ है।  केंद्रीय गृह मंत्रालय की रिपोर्ट के मुताबिक यहां करीब 7815 घरों को नुकसान हुआ है, वहीं 870 पेड़ उखड़ गए। इसके अलावा  950 फोन टॉवरों को नुकसान हुआ है। साउथ 24 परगना में 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। इसके अलावा कई इलाकों में भारी बारिश का कहर भी बरप रहा है। इससे कई शहरों में संचार और बिजली सेवाएं बुरी तरह से प्रभावित हुई हैं।

चक्रवाती तूफान 'बुलबुल' से पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तबाही,3 लोगों की माैत,पीएम ने सीएम ममता से की बात

तटीय जिलों में निचले इलाकों से 1,64,315 लोगों को बचाया गया

बुलबुल चक्रवात शनिवार को 110-120 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से बंगाल से टकराया था। वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने घोषणा की कि उनके प्रशासन ने तटीय जिलों में निचले इलाकों से 1,64,315 लोगों को बचाया। प्रशासन पूरी तरह से सक्रिय है। चक्रवात का एक बड़ा हिस्सा राज्य को पार कर गया है। हालांकि उन्होंने राज्य के लोगों से अपील की है कि जब तक स्थिति पूरी तरह से स्थिर नहीं हो जाती, तब तक वे घरों से बाहर न निकलें। वहीं मछुआरों को समुद्र में नहीं उतरने की सलाह दी गई है।

चक्रवाती तूफान 'बुलबुल' से पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तबाही,3 लोगों की माैत,पीएम ने सीएम ममता से की बात

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk

inext-banner
inext-banner