क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ : मुख्यमंत्री रघुवर दास के सख्त आदेश के बाद भी दलालों की एक्टिविटी पर अंकुश लगाने में रिम्स प्रशासन नाकाम साबित हो रहा है. सोमवार को एक मरीज के लाचार परिजनों से दलालों ने जांच कराने के नाम पर 900 रुपए ठग लिए. जब उन्होंने टेस्ट की पर्ची मांगी तो दलाल ने थोड़ी देर में आने की बात कहकर चला गया, लेकिन फिर नहीं लौटा. ऐसे में मरीज के परिजन डिप्टी सुपरिंटेंडेंट के पास पहुंचे तो उन्होंने लिखित शिकायत दर्ज कराने को कहा.

यह है मामला

नवादा की रहने वाली गुडि़या 22 जून

से सर्जरी वार्ड में डॉ आरएस शर्मा यूनिट में एडमिट है. डॉक्टर ने ऑपरेशन के पहले मरीज को कुछ जरूर टेस्ट कराने को कहा. मरीज के मामा लक्ष्मण सोनी ने टेस्ट कराने के लिए कैश काउंटर से पर्ची भी कटा ली. इस बीच एक दलाल ने उन्हें झांसे में लेकर टेस्ट के लिए 900 रुपए ले लिए. पैसे लेने के बाद वह वहां से निकल गया और फिर लौटकर नहीं आया.

वर्जन

फिलहाल इस मामले में कुछ कहना मुश्किल है. पीडि़ता को लिखित शिकायत दर्ज करने को कहा गया है. इसके बाद मामले की छानबीन की जाएगी. आखिर कौन मरीज से ठगी कर रहे हैं, इसकी पहचान करना मुश्किल है.

डॉ संजय कुमार

डीएस, रिम्स