मेरिग्नैक (फ्रांस) (पीटीआई)। भारतीय वायुसेना की ताकत अब और कई गुना बढ़ गई है।  36 लड़ाकू विमानों में एक राफेल फाइटर जेट मंगलवार को भारत को औपचारिक रूप से फा्रंस की ओर से साैंप दिया गया है।  खास बात तो यह है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह राफेल विमान को रिसीव करने के लिए पेरिस पहुंचे थे। यहां फ्रांस के एयरबेस पर ही रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने राफेल फाइटर जेट की विधिविधान से पूजा अर्चना की। उन्होंने राफेल जेट पर 'ऊं' लिखा।  शस्त्र पूजा के बाद उन्होंने राफेल में उड़ान भी भरी।

भारत को मिला पहला राफेल जेट,रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पूजन के बाद भरी उड़ान

राकेश भदौरिया के नाम पर RB001 रखा गया

भारत को मिले पहले राफेल का नाम वायुसेना प्रमुख राकेश भदौरिया के नाम पर RB 001 रखा गया है। वहीं रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने  कहा कि फ्रांस ने औपचारिक रूप से लंबे समय से प्रतीक्षित फ्रांस निर्मित विमानों की पहली डिलीवरी की। 68 वर्षीय रक्षा मंत्री ने राजनाथ सिंह ने कहा, हम किसी अन्य देश को धमकाने के लिए हथियार या फिर दूसरे रक्षा साजो सामान नहीं खरीदते हैं बल्कि हम अपनी क्षमताओं को बढ़ाने व रक्षा इकाई को मजबूत करने के लिए इन्हें खरीदारी करते हैं। इसे खरीदने का क्रेडिट पीएम नरेंद्र मोदी को जाता है।

भारत को मिला पहला राफेल जेट,रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पूजन के बाद भरी उड़ान

यह मेरे जीवन का कभी न भूलने वाला लम्हा

रक्षा मंत्री ने उड़ान के बाद कहा यह मेरे जीवन का कभी न भूलने वाला लम्हा हैं। उन्होंने कहा कि मैंने कभी कल्पना नहीं की थी कि मैं सुपरसोनिक स्पीड से उड़ान भरुंगा। यह एक बहुत आरामदेह और सुगम उड़ान रही।  इस उड़ान के दाैरान मैंने इस लड़ाकू विमान की कई क्षमताओं, इसकी हवा से हवा में मार करने की क्षमता और इसकी जमीन पर लक्ष्य भेदने की क्षमता को देखा है। इसके साथ ही रक्षा मंत्री ने  कहा कि हमारी वायु सेना दुनिया में चौथी सबसे बड़ी है और मुझे विश्वास है कि यह एयरक्राफ्ट हमें और भी मजबूत बनाएगा।

भारत को मिला पहला राफेल जेट,रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने पूजन के बाद भरी उड़ान

राफेल का हिंदी में मतलब है हवा का झोंका

राजनाथ सिंह ने सभा को हिंदी में संबोधित करते हुए कहा कि मुझे बताया गया है कि फ्रेंच शब्द राफेल का हिंदी में मतलब है हवा का झोंका। मुझे यकीन है कि विमान अपने नाम पर खरा उतरेगा। राफेल विमान के भारत आने के साथ ही वायुक्षेत्र में भारत के दबदबा और बढ़ेगा। एक महीने के अंदर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लड़ाकू विमान में दूसरी बार उड़ान भरी। बीते 19 सितंबर को, राजनाथ सिंह ने बेंगलुरु के एचएएल हवाई अड्डे से तेजस लड़ाकू विमान में उड़ान भरी, जो स्वदेशी निर्मित हल्के लड़ाकू विमान में उड़ान भरने वाले पहले रक्षा मंत्री हैं।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk