नई दिल्ली (एएनआई)।  दिल्ली की एयर क्वालिटी रविवार को लगातार चौथे दिन भी खराब रही। दिल्ली में एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) 266 दर्ज हुआ। सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (एसएएफएआर) के अनुसार, प्रदूषण स्तर कल एक्यूआई के साथ पुअर और मिडिल कैटेगरी के बीच रहेगा।  

कुछ ऐसा है एयर क्वालिटी इंडेक्स

एसएएफएआर के मुताबिक एक्यूआई अगर 0-50 के बीच हो तो इसे अच्छा माना जाता है, 51-100 के बीच एक्यूआई संतोषजनक, 101-200 के बीच एक्यूआई को मध्यम, 201-300 के बीच खराब, 301-400 के बीच को बेहद खराब माना जा रहा है जबकि 401-500 के बीच हवा की एक्यूआई को गंभीर माना जाता है।

दिल्ली के इन इलाकों का ये है एक्यूआई

राजधानी दिल्ली के धीरपुर की एक्यूआई पर नजर डालें तो सुबह 8:30 बजे 313 रिकार्ड हुआ। मथुरा रोड क्षेत्र में 306  और पूसा, हवाई अड्डे, टर्मिनल 3 और दिल्ली विश्वविद्यालय के पास एक्यूआई क्रमशः 245, 290 और 300 पर रिकार्ड हुआ। एसएएफएआर ने सेंसेटिव ग्रुप को और ज्यादा एक्टिव रहने को कहा है।

दिल के मरीज तुरंत जाएं डाॅक्टर के पास

वहीं स्थानीय लोगों को सलाह दी है कि वे अधिक ब्रेक लें। खांसी या सांस की तकलीफ के लक्षण होने पर अस्थमा के रोगियों को दवा तैयार रखने की सलाह दी गई है। इसके अलावा एसएएफएआर ने दिल के मरीजों को सलाह दी है कि वे उन्हें सांस की तकलीफ या असामान्य थकान महसूस हो तो तुरंत डाॅक्टर को दिखाएं।

आबोहवा को दूषित होने से बचाने के लिए ये प्लान

15 अक्टूबर 2019 से शहर व उसके आसपास गुरुग्राम, नोएडा, गाजियाबाद और फरीदाबाद में आबोहवा को दूषित होने से बचाने के लिए  ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (ग्रेप) पर प्रभावी ढंग से काम होगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक यह पांच माह तक रहेगा । ग्रेप पहली बार दिल्ली एनसीआर में 2017 में लागू किया था।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk