नई दिल्ली (एएनआई)। आम आदमी पार्टी (AAP) के प्रमुख अरविंद केजरीवाल 16 फरवरी को तीसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने वाले हैं।शपथ ग्रहण समारोह रामलीला मैदान में होगा। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राज निवास में उपराज्यपाल अनिल बैजल से मुलाकात की है। बैठक लगभग 15 मिनट तक चली। सूत्रों ने कहा कि दोनों ने शपथग्रहण समारोह पर चर्चा की। प्रक्रिया के अनुसार, केजरीवाल को मुख्यमंत्री के रूप में अपने नए शपथ ग्रहण के लिए पहले इस्तीफा देना होगा। बता दें कि केजरीवाल आम आदमी पार्टी के नए विधायकों के साथ बैठक भी करेंगे। विधायक फिर उन्हें विधायक दल का नेता चुनेंगे, जिसके बाद वह सरकार बनाने का दावा करेंगे।

70 में से 62 सीटें जीतकर भाजपा को किया चित

AAP ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में 70 में से 62 सीटें जीतकर भाजपा के हाई-वोल्टेज प्रचार को विफल कर दिया है। भाजपा की तरफ से दिल्ली में कई रज्यों के मुख्यमंत्री और केंद्रीय मंत्री ने चुनाव प्रचार किया था। वहीं, पिछले चुनावों में खाली रहने वाली कांग्रेस इस बार भी अपना खाता खोलने में असफल रही। बता दें कि इस बार भाजपा का वोट प्रतिशत तो बढ़ा ही है, इसके साथ उसे पांच सीटों का भी फायदा हुआ है। उसे इस बार आठ सीटें मिली हैं। दिल्ली के लोगों ने केजरीवाल के बिजली, पानी, शिक्षा व स्वास्थ्य के क्षेत्र में किए गए कामों को लेकर पूरा सपोर्ट किया है।

Posted By: Mukul Kumar