विधायक नीलम करवरिया से मांगी आधार व डेबिट कार्ड की डिटेल

विधायक के पीआरओ ने अतरसूईया थाने में दर्ज करायी एफआईआर

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: अब तक आम लोगों को ऑनलाइन फ्राड का शिकार बनाने वालों ने इस बार विधायक को ही ठगने का प्रयास किया. मेजा की विधायक नीलम करवरिया फ्राड का शिकार होने से बच गई. उनके पीआरओ जितेन्द्र शुक्ल ने अतरसूईया थाने में मोबाइल नम्बर के आधार पर मुकदमा दर्ज कराया है.

कई दिन तक किया परेशान

विधायक नीलम करवरिया के मोबाइल पर 4 जुलाई को एक अनजान नम्बर से कॉल आयी. फोन करने वाले ने खुद को बैंक का कर्मचारी बताते हुए आधार नम्बर की डिटेल मांगी. कुछ दिन पूर्व ही विधायक ने लखनऊ में बैंक से कार फाइनेंस करायी थी. उन्हें लगा कि शायद इसी कारण बैंक की तरफ से आधार नम्बर मांगा जा रहा है. उन्होंने मोबाइल पीआरओ को दे दिया. पीआरओ जितेन्द्र शुक्ला ने आधार का नम्बर उपलब्ध करा दिया. इसके बाद कॉल करने वाले जालसाज ने डेबिट कार्ड का नम्बर और उसकी पूरी डिटेल मांगी. विधायक को जब ये पता चला तो उन्हें मामला संदिग्ध लगा. उन्होंने फोन करने वाले जालसाज से कहा कि वह बैंक में आकर पूरी डिटेल उपलब्ध करा देंगी. इसके बाद फोन डिस्कनेक्ट कर दिया. इसके बाद उनके मोबाइल पर अगले दिन तक कॉल आती रही.