मुंबई (पीटीआई)। महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस बुधवार को भाजपा विधायक दल के नेता चुन लिए गए हैं। बैठक में सभी 105 नवनिर्वाचित भाजपा विधायक उपस्थित थे, जहां केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और पार्टी उपाध्यक्ष अविनाश राय खन्ना केंद्रीय पर्यवेक्षक के रूप में मौजूद थे। यह बैठक दक्षिण मुंबई के विधान भवन में आयोजित की गई थी। केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि महाराष्ट्र भाजपा विधायक दल की बैठक में इस पद के लिए कोई अन्य नाम प्रस्तावित नहीं था। फडणवीस ने फिर से विधायक दल का नेता चुने जाने के बाद पार्टी के विधायकों को धन्यवाद दिया। इसके अलावा उन्होंने शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे को भी धन्यवाद दिया।

शिव सेना और भाजपा के बीच मतभेद

बता दें कि विधायक दल की यह बैठक ऐसे समय में हुई है, जब शिव सेना और भारतीय जनता पार्टी के बीच राज्य में सत्ता को लेकर खींचतान चल रही है। शिव सेना ने 288 सदस्यीय सदन में 56 सीटें, एनसीपी ने 54 और कांग्रेस ने 44 सीटें जीतीं है। इसी बीच महाराष्ट्र एनसीपी प्रमुख जयंत पाटिल ने बुधवार को कहा कि उनकी पार्टी और उसकी सहयोगी कांग्रेस महाराष्ट्र में विपक्ष में बैठेगी, जैसा कि लोगों ने जनादेश दिया है। पाटिल का यह बयान ऐसे समय में सामने आया है, जब यह माना जा रहा था कि शिव सेना राज्य में अपनी सरकार बनाने के लिए एनसीपी से गठबंधन सकती है लेकिन पाटिल ने साफ कर दिया कि उनकी पार्टी सरकार का हिस्सा नहीं होगी।

सरकार के कामों पर रखेंगे नजर

पाटिल ने कहा, 'हमें लोगों द्वारा विपक्ष में बैठने के लिए कहा गया है और हम उस कर्तव्य का निर्वहन करेंगे।' इसके अलावा एनसीपी के वरिष्ठ नेता अजीत पवार ने कहा कि उनकी पार्टीसरकार द्वारा की गई गलतियों को उजागर करेगी। पवार ने कहा, 'अगर सरकार सही दिशा में काम कर रही है तो हम एक टैब रखेंगे। हम सुनिश्चित करेंगे कि सरकार की तरफ से समाज के किसी भी वर्ग के साथ कोई अन्याय न हो।'

Posted By: Mukul Kumar

National News inextlive from India News Desk