भोपाल (पीटीआई)। मध्य प्रदेश के राजगढ़ जिले में नागरिकता संशोधन अधिनियम समर्थन में निकाली गई रैली में भाजपा कार्यकर्ताओं व दो महिला अधिकारियों के बीच भिड़ंत पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने बीजेपी पर निशाना साधा है। वहीं भाजपा कार्यकर्ता को पीटने को लेकर उन्होंने महिला अधिकारियों की प्रशंसा की। रविवार को सोशल मीडिया पर वायरल हुए वीडियो में राजगढ़ की कलेक्टर निधि निवेदिता बीजेपी कार्यकर्ता को थप्पड़ मारते दिख रही हैं। वहीं एडीशनल कलेक्टर प्रिया वर्मा ने एक प्रदर्शनकारी के बाल खींचे। इस दौरान उनके साथ भी बदसलूकी की गई। इस पर सोमवार को दिग्विजय सिंह ने ट्वीट किया कि मध्य प्रदेश के राजगढ़ में भाजपा की गुंडागर्दी सामने आ गई। जिला कलेक्टर और एसडीएम अधिकारियों को पीटा गया, बाल खींचे गए। महिला अधिकारियों की बहादुरी पर हमें गर्व है।


खुद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मोर्चा संभाला

रैली का आयोजन बीजेपी द्वारा बियोरा कस्बे में किया गया था। इस जिले में निषेधाज्ञा लागू होने के बाद भी संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के समर्थन में बीजेपी नेता व कार्यकर्ता रैली निकाल रहे थे। ऐसे में जब प्रशासन द्वारा उन्हें रोके जाने का प्रयास हुआ तो मामला बिगड़ गया।राजगढ़ जिले में हुई कार्यकर्ताओं को पीटे जाने के खिलाफ खुद पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मोर्चा संभाला। इस घटना पर वरिष्ठ भाजपा नेता और पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि निवेदिता के खिलाफ मामला दर्ज नहीं होने पर भाजपा अदालत का रुख करेगी। इतना ही नहीं उन्होंने राजगढ़ की घटना को लोकतंत्र के लिए काला दिन बताते हुए कई ट्वीट किए। वहीं इस घटना को लेकर कलेक्टर निधि निवेदिता व एडीशनल कलेक्टर प्रिया वर्मा ने अपना-अपना बचाव करते हुए इस हद तक जाने की वजहें गिनाई हैं।

Posted By: Shweta Mishra

National News inextlive from India News Desk