- सीएस ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए दिए दिशा निर्देश

- हॉस्पिटलों में आइसोलेशन वार्ड, मेडिसीन की व्यवस्था सुनिश्चित हो

देहरादून,

कोरोना कंट्रोल के लिए सरकारी स्तर पर रोज मंथन हो रहा है, डिसिजन लिए जा रहे हैं और हर स्तर पर अफसरों को जिम्मदारियां सौंपी जा रही हैं। बुधवार को चीफ सेक्रेटरी ने सभी जिलों के डीएम व सीएमओ को जिले में मजबूती से मोर्चा संभालने के निर्देश दिए हैं। निर्देश दिए कि वे खुद हॉस्पिटल्स का इंस्पेक्शन करें, आइसोलेशन वार्ड की व्यवस्थाएं जानें, मेडिसिन व जरूरी उपकरणों का स्टॉक मेंटेन करने पर फोकस रखा जाए। साथ ही मास्क की शॉर्टेज न होने दी जाए।

पब्लिक अवेयरनेस पर फोकस

चीफ सेक्रेटरी ने निर्देश दिए तो पब्लिक को पैनिक न होने दिया जाए, उसे अवेयर किया जाए। पब्लिक प्लेसेज पर क्या करें, क्या न करें जैसी अहम जानकारियां दी जाएं। इसके लिए होर्डिग्स, बोर्ड, बैनर व पोस्टर लगाकर प्रचार-प्रसार किया जाए। पंफलेट्स बांटकर पब्लिक को अवेयर किया जाए, ताकि पब्लिक के बीच कोरोना से बचाव का मैसेज कनवे हो सके।

पब्लिक प्लेसेज को किया जाए सेनिटाइज

सीएस ने कहा कि शासन से जो एडवाइजरी जारी की गयी है, उसके अनुसार ही डीएम व सीएमओ के साथ दूसरे अधिकारी भी व्यवस्थायें करना सुनिश्चित करें। सीएस ने सभी डीएम को अपने-अपने डिस्ट्रिक्ट में ऑफिसों, बसों, रेलवे स्टेशनों, बसों, टैक्सी, टेंपो व विक्रम आदि व्हीकल्स की बेहतर तरीके से सेनिटाइज किया जाए।

सोडियम क्लोराइड का हो छिड़काव

सीएस ने पब्लिक प्लेसेज, हॉस्पिटल, बैंक, एटीएम व अन्य प्लेसेज पर सेनिटाइजेशन के निर्देश दिए हैं। इसके लिए पर्याप्त मात्रा में सोडियम क्लोराइड का स्टॉक मेंटेन करने को कहा गया है।

डीएम-सीएमओ को ये डायरेक्शंस

- पब्लिक प्लसेजे को सेनिटाइज किया जाए।

- कर्मचारियों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाए।

-नगर निकाय इलाके में सेनिटाइजर का स्प्रे करें।

-सफाई कर्मचारियों को मास्क व अन्य सेफ्टी इक्विपमेंट दिए जाएं।

-सभी डीएम हर स्थिति पर रखें अपनी निगाह।

-डिस्ट्रिक्ट में मेलों व स्थानीय हाट बाजारों पर लगे रोक।

पुलिस को स्पेशल ट्रेनिंग

वीसी के दौरान डीजीपी अनिल रतूडी ने उपस्थित सभी पुलिस अधिकारियों से कहा कि एसडीआरएफ द्वारा सभी डिस्ट्रिक्ट में पुलिस, होमगार्ड, सीआरपीएफ कर्मचारियों को ट्रेनिंग दी जा रही है। कहा, विदेश से आने वाले लोगों पर पुलिस महकमे को विशेष निगरानी रखते हुये उनका स्थानीय प्रशासन से समन्वय कर परीक्षण कराया जाए। डीजीपी ने सभी पुलिस लाइनों, बटालियनों, थानों व ऑफिसों का भी रेगुलर सेनिटाइजेशन करने के लिए कहा गया है। वीसी के दौरान डीआईजी अरुण मोहन जोशी, एडीएम बीर सिंह बुधियाल, सीएमओ डा। मीनाक्षी जोशी आदि मौजूद रहे।

केंद्रीय संस्थान नहीं दे रहे आगंतुकों की डिटेल

वीसी के दौरान डीएम देहरादून डॉ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने जनाधार व ई-डिस्ट्रिक्ट के साथ आधार केंद्र में आने वाले विजिटर्स को टोकन सिस्टम के माध्यम से प्रमाण-पत्र उपलबध कराये जाने की बात कही। इसके अलावा उन्होंने देहरादून स्थित केंद्रीय स्थानों द्वारा उनके संस्थानों में आने-जाने वाले आगन्तुकों का विवरण न दिये जाने की बात भी कही। इस पर चीफ सेक्रेटरी ने टेलीफोन के जरिए सौहा‌र्द्ध पूर्ण वातावरण बनाते हुए सूचना प्राप्त करने को कहा।

ऑफलाइन प्रमाण पत्र 24 मार्च तक स्थगित

डा। आशीष श्रीवास्तव ने कलेक्ट्रेट स्थित ई-डिस्ट्रिक्ट केंद्र व तहसील स्थित ई-डिस्ट्रिक्ट केंद्रों से प्रमाण पत्रों को बनाए जाने की प्रक्रिया को तत्काल प्रभाव से स्थगित करने के निर्देश दिए हैं। प्रमाण पत्र आगामी 24 मार्च तक नहीं बन पाएंगे।

Posted By: Inextlive

inext-banner
inext-banner