आरोपित पत्‌नी व उसका प्रेमी गिरफ्तार

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: पिछले महीने हुई शिव प्रसाद की हत्या इश्क में पालग उसकी पत्‌नी ने ही आशिक के साथ मिल कर की थी. मंगलवार को नैनी पुलिस की गिरफ्त में आई मृतक की पत्‌नी रीता देवी और उसके प्रेमी संगम लाल ने अपना गुनाह कुबूल किया. घटना के बाद से दोनों फरार चल रहे थे. पुलिस लाइंस में एसएसपी नितिन तिवारी ने इस बात का खुलासा मीडिया के सामने किया.

प्रेमी संग हो गई थी फरार

बताया कि सीमेंट कंपनी में लोडिंग का काम करने वाला शिव प्रसाद अपनी पत्‌नी रीता देवी के साथ नैनी स्थित धनुआ में जितेन्द्र तिवारी के घर में किराए पर रहता था. महिला की शादी करीब 18 साल पहले मवैया के नान्हन हुई थी. उसके दो बच्चे थे. पति की मौत के बाद रीता ने शिव प्रसाद से शादी कर ली. शादी के बाद शिव प्रसाद के मौसी का लड़का संगम लाल उसके घर आने जाने लगा. इस बीच वह संगम लाल को दिल दे बैठी. शिव प्रसाद जहां भी किराए पर कमरा लेता था उसी के आसपास संगम लाल भी कमरा ले लेता था. जब शिव प्रसाद काम होता था तो संगम लाल घर उसके घर पहुंच जाता था. वह पेशे से राजगीर है. जानकारी होने पर शिव प्रसाद ने कई बार पत्‌नी रीता को फटकार भी लगाई. इस पर दोनों चोरी छुपे मिलने लगे. एक दिन इस बात को लेकर शिव प्रसाद व संगम के बीच मारपीट हो गई. इसके बाद रीता ने संगम लाल के साथ मिलकर पति शिव प्रसाद की हत्या का प्लान बना डाली. हत्या वाले दिन रीता ने घर का दरवाजा खोलकर संगम अंदर बुला ली और सो रहे शिव प्रसाद की गर्दन पर बांके से हमलाकर मौत के घाट उतार दिया. इसके बाद दोनों फरार हो गए. पुलिस ने नैनी रेलवे स्टेशन के पास से दोनों को गिरफ्तार किया तो मामले का सनसनीखेज खुलासा हुआ.