-जिला महिला अस्पताल के स्पेशल चाइल्ड केयर वार्ड की गई व्यवस्था

<-जिला महिला अस्पताल के स्पेशल चाइल्ड केयर वार्ड की गई व्यवस्था

BAREILLY BAREILLY .

जिला महिला अस्पताल में बेड की कमी होने पर नवजातों को डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल रेफर नहीं किया जाएगा. इन बच्चों को हॉस्पिटल की नई बिल्डिंग में शिफ्ट कर दिया जाएगा. हॉस्पिटल में नवजातों की बड़ी संख्या में हुई मौत के बाद हरकत में आए अधिकारियों ने वेडनसडे को क्00 बेड के वार्ड को ओपन कर दिया.

हॉस्पिटल में नहीं था वार्ड

अभी तक महिला हॉस्पिटल में बच्चा वार्ड नहीं था. ऐसे में बच्चों को भर्ती करने के लिए डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल को रेफर कर दिया जाता था. जिसकी वजह से डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में बने बच्चा वार्ड में मरीजों की संख्या बढ़ जाती थी. ऐसे में दो या इससे अधिक बच्चों को एक ही बेड पर शिफ्ट कर ट्रीटमेंट दिया जाता था.

डॉक्टर्स की निगरानी में रहेंगे बच्चे

जिला महिला अस्पताल में क्00 बेड का वार्ड बनाए जाने के बाद अब भर्ती बच्चे चाइल्ड केयर स्पेशलिस्ट डॉक्टर्स की निगरानी में रहेंगे, जो समय-समय पर सभी बच्चों को रूटीन चेकअप करने के साथ उनके पेरेंट्स को जरूरी सलाह भी देंगे. यदि किसी बच्चे की तबीयत बिगड़ती है तो उसके तुरंत इलाज दिया जाएगा.

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में बने बच्चा वार्ड में मरीजों की संख्या बढ़ती ही जा रही थी. जिसको देखते हुए जिला महिला अस्पताल की न्यू बिल्डिंग में क्00 बेड का वार्ड तैयार करा दिया गया है. डॉ. केएस गुप्ता, सीएमएस