-पर्स लूट की वारदात में पकड़ी तलाकशुदा युवती और ब्वायफ्रेंड

-क्लेमेंटटाउन में बाइक पर चलते लूटा दिल्ली की युवती का पर्स

dehradun@inext.co.in
DEHRADUN : सहारनपुर की एक तलाकशुदा युवती अपने ब्वायफ्रेंड के साथ दून में आकर बस गई और खर्चा चलाने के लिए क्राइम की राह पर निकल पड़ी. क्राइम भी छोटा मोटा नहीं, ब्वायफ्रेंड की बाइक पर पीछे बैठकर फिल्मी स्टाइल में सैटरडे नाइट उसने राहचलती एक लड़की का पर्स लूट लिया. रात साढे 9 बजे हुई वारदात की सूचना पर पुलिस ने नाकाबंदी शुरू की और मुखबिर तंत्र सक्रिय किया तो पता चला इलाके में किराए से कमरा लेकर रहने वाला कपल रात में बाइक पर संदिग्ध अंदाज में घूम रहा था. पुलिस पहुंची तो युवती अपने सात वर्षीय बेटे और प्रेमी के साथ मिल गई. पूछताछ में उसने आर्थिक तंगी के चलते खर्चा चलाने को पर्स लूटना कबूल कर लिया. पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है.

दिल्ली से आई युवती का पर्स लूटा:

एसपी सिटी श्वेता चौबे ने बताया कि वारदात सैटरडे रात साढे 9 बजे हुई. क्लेमेंटटाउन एरिया में रहने वाली तिब्बती परिवार की लड़की केलसंग दिल्ली में जॉब करती है. वह दलाई लामा का बर्थडे मनाने तिब्बती कॉलोनी में अपने घर आई थी. रात को बुद्दा टेंपल की तरफ से वह घर का सामान लेकर पैदल लौट रही थी. इसी दौरान पीछे से आई बाइक सवार उसका पर्स छीन ले गए. पर्स में 3 हजार रुपए, मोबाइल और एटीएम कार्ड थे. केलसंग ने क्लेमेंट टाउन थाने पहुंच कर पर्स लूट की सूचना दी और बाइक सवारों का हुलिया भी बताया,जिसमें उसने यह भी साफ किया कि बाइक लड़का चला रहा था,पीछे लड़की बैठी थी. पलिस को जब यह साफ हुआ कि पर्स छीनने की वारदात बाइक सवार लड़का-लड़की ने की है तो एरिया में बाइक पर घूमने वाले कपल्स को टारगेट कर नाकाबंदी और मुखबिरी शुरू कराई गई.सुबह होते होते पुलिस मूलत: सहारनपुर निवासी युवक-युवती के कमरे पर पहुंच गई और उनके कब्जे से लूटा गया पर्स,कैश व अन्य सामान बरामद कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया. गिरफ्तार युवती सोनी कश्यप (24) निवासी द्वारकापुरी और उसका प्रेमी सागर तोमर (20) निवासी शिवपुर,देवबंद, सहारनपुर के रहने वाले हैं. दोनों करीब ढाई माह से देहरादून में खुद को पति-पत्‌नी बताकर रह रहे थे. युवती तलाकशुदा है, उसका सात वर्ष का बेटा भी है.

सात वर्ष के बेटे की भी परवाह नहीं की:

पुलिस ने बताया कि सोनी तलाकशुदा है, उसका सात वर्ष का बेटा भी है. पूछताछ में उसने बताया कि पिछले वर्ष वह सहारनपुर में ही अपने से उम्र में चार वर्ष छोटे सागर के संपर्क में आई थी. दोनों में प्यार हो गया. आगे की जीवन साथ गुजारने के इरादे से वह अपने बेटे और सागर के साथ दो माह पहले सहारनपुर छोड़ देहरादून आ गए. दोनों ने खुद को पति-पत्नी बताते हुए कमरा किराए पर लिया और सागर जोमेटो में फूड डिलीवरी का काम करने लगा.ले लिया. हाल ही में सागर को नौकरी से निकाल दिया तो उनकी आर्थिक हालत खराब हो गई और पर्स लूट की वारदात कर डाली. हैरानी की बात यह है कि पर्स बाइक पर पीछे बैठी सोनी ने लूटा. उसने अपने सात वर्ष के बच्चे की भी फिक्र नहीं की.

बच्चे को नाना अपने साथ ले गए:

क्लेमेंटटाउन थाने के प्रभारी इंचार्ज एसआई सुनील कुमार ने बताया कि सागर और सोनी के पकड़े जाने पर उनके घर वालों को सूचना दी गई तो वे भी हैरान हर गए. घर वालों को उनके बारे में यह पता था कि देहरादून में नौकरी करते हैं. पुलिस की सूचना पर सोनी के पिता दून आए. सोनी और सागर को कोर्ट में पेश किया ,जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया. सोनी के बेटे को उसके पिता के सुपुर्द कर दिया, वे उसे लेकर सहारनपुर चले गए.

Posted By: Inextlive