क्त्रन्हृष्ट॥ढ्ढ : रिम्स के कर्मी अब नए कलेवर में नजर आएंगे. हॉस्पिटल के कर्मियों के लिए ड्रेस कोड लागू किया गया है. जो ड्रेस कोड को फॉलो नहीं करेंगे, उनके खिलाफ एक्शन लिया जाएगा. इस बाबत डायरेक्टर डॉ डीके सिंह के द्वारा आदेश जारी कर दिया गया है. उन्होंने कहा है कि रिम्स की व्यवस्था को बेहतर बनाने की दिशा में यह कदम उठाया गया है. गौरतलब है कि हॉस्पिटल में आउटसोर्सिग कंपनी के कई स्टाफ्स बिना ड्रेस के ही ड्यूटी करते हैं. इस वजह से उनकी पहचान नहीं हो पाती है, जिस कारण कई बार असहज सिचुएशन पैदा हो जाती है.

कंपनियों को लेटर जारी

रिम्स में कई आउटसोर्सिग कंपनियां अलग-अलग जिम्मा संभाल रही हैं. किसी एजेंसी के हवाले सिक्योरिटी है तो किसी के पास किचन का जिम्मा. इन सभी एजेंसीज के जो भी कर्मी यहां काम कर रहे हैं उन सभी के लिए अलग-अलग ड्रेस कोड है. इसके पीछे मकसद उनकी पहचान सुनिश्चित करना है. इससे कई बार मरीज व उनके परिजनों की कर्मियों के साथ बकझक से लेकर मारपीट तक हो जाती है. इसे नियंत्रित करने के लिए ही ड्रेस कोड को कड़ाई से लागू करने का आदेश निकाला गया है.

हॉस्पिटल में काम कर रही एजेंसीज

-एवरेस्ट ह्यूमन रिसोर्स कंसल्टेंट

-अन्नपूर्णा यूटिलिटी सर्विसेज प्रा लिमिटेड

-मेडिलैब एंड कंपनी

-श्रीराम इंटरप्राइजेज

-एडवांस बिजनेस कॉरपोरेशन