- जम्मू में तैनात सेना के जवान सुरेंद्र के साथ चार और लोगों को किया गया गिरफ्तार

- बहेड़ी तहसील के गांव पिंदारी का रहने वाला है सुरेंद्र, छुट्टी पर आया था घर

बरेली : जम्मू में तैनात सेना का एक जवान अफीम की तस्करी के आरोप में गिरफ्तार किया गया है. उसके साथ चार अन्य लोगों को भी पकड़ा गया है. थाना कोतवाली में मुकदमा दर्ज किया गया है. पकड़े गए लोगों में दो झारखंड के हैं. पकड़े गए सुरेंद्र, शेर सिंह, धनंजय, उदय व भवरचंद्र से 90 हजार रुपये मिले, डेढ़ किलो अफीम बरामद की गई. सभी को बाद में जेल भेज दिया गया.

जंक्शन के पास पकड़े गए

क्राइम ब्रांच की इंटेलीजेंस विंग को अफीम की तस्करी करने वाले लोगों के जंक्शन के पास मनोरंजन सदन के करीब खड़े होने की जानकारी मिली. सूचना थी कि तस्कर वहां अफीम लेकर आने वाले हैं. टीम पहले ही मौजूद थी. दोपहर बाद एक ओमनी वैन आकर रुकी. पुलिसकर्मी चौकन्ने थे. वैन में बैठे पांच लोगों को पकड़ लिया.

सेना का जवान है सुरेंद्र कुमार

पकड़े गए युवकों में सुरेंद्र कुमार सेना का जवान है. वह जम्मू में सतुआरी सेक्टर में तैनात है तथा बहेड़ी के गांव पिंदारी का रहने वाला है. गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने सुरेंद्र से पूछताछ की. जिसमें उसने कुछ लोगों पर आरोप लगाया कि उसे फंसाया गया है.

छुट्टी पर आया था बरेली

पुलिस को बताया कि वह 10 अगस्त को छुट्टी पर आया था. यहां कुछ लोगों ने उसे अपने जाल में फंसा लिया, जबकि पुलिस का कहना है कि सुरेंद्र ने अपने भाई के साले जयपाल के साथ मिलकर झारखंड के धनंजय व उदय से अफीम मंगवाई. इसके बदले दोनों को 90 हजार रुपये देने थे. इस अफीम को सुरेंद्र अपने साथी बहेड़ी के गवारी गांव निवासी भवरचंद्र गंगवार के साथ मिलकर बहेड़ी व रुद्रपुर में बेचता. इसके अलावा पुलिस ने बहेड़ी के रतनगढ़ गांव के शेर सिंह वैन चालक को गिरफ्तार किया है.

झारखंड पुलिस की सूचना पर पकड़ा

झारखंड पुलिस की सूचना पर क्राइम ब्रांच की टीम ने यह कामयाबी हासिल की है. टीम के मुताबिक, झारखंड पुलिस ने क्राइम ब्रांच को सूचना दी कि झारखंड से अफीम तस्कर अफीम लेकर बरेली पहुंच रहे हैं. वहां से वह बहेड़ी की ओर जाने वाले हैं. इसी सूचना पर क्राइम ब्रांच ने जंक्शन के पास से पांचों को पकड़ लिया. अफीम को बहेड़ी व रुद्रपुर में बेचने की प्लानिंग थी.