- प्रत्येक शहर को मंडी विकसित करने को मिलेंगे 30 लाख

PATNA : केन्द्रीय कृषि मंत्री राधामोहन सिंह ने कहा कि केन्द्र सरकार ई-मार्केटिंग के जरिए देश के भ्8भ् मंडियों को जोड़ने जा रही है. यह कार्यक्रम क्ब् अपै्रल से प्रारंभ हो जाएगा. इसके लिए राज्य सरकारों से प्रस्ताव मांगे गए हैं. चौदह राज्यों ने सौ से अधिक शहरों का प्रस्ताव भेजा है, लेकिन बिहार, केरल और पंजाब से एक भी शहर का प्रस्ताव नहीं भेजा गया है. कृषि मंडी विकसित करने के लिए प्रत्येक शहर को फ्0 लाख रुपए दिए जाएंगे.

दुकानदारों को मिलेगा लाइसेंस

कृषि मंत्री ने रविवार को पत्रकारों से कहा कि मंडियों में व्यापार करने वाले दुकानदारों को लाइसेंस दिए जाएंगे. लाइसेंसी दुकानदार ही किसानाें से उत्पाद खरीद पाएंगे, साथ ही किसानों को देश की विभिन्न मंडियों में अपने उत्पाद की कीमत देखने की सुविधा होगी. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने सात निश्चय सुनिश्चित किया है, मगर कृषि को गायब कर दिया गया है.

मोतिहारी में लगेगा पशु मेला

उन्हाेंने कहा कि सूबे में पशुधन के विकास के लिए ख्9 और फ्0 को मोतिहारी में पशु मेला सह वैज्ञानिक सत्र का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें पशुओं के स्वास्थ्य की जांच की जाएगी और वैज्ञानिक पशुपालन के बारे में जानकारी दी जाएगी.