नई दिल्ली (एएनआई)। भारत के चुनाव आयोग (ईसीआई) ने शुक्रवार को अंबाला के व्यय पर्यवेक्षक (ईओ) को यह कहते हुए बदल दिया कि उनका प्रदर्शन संतोषजनक नहीं पाया गया है। यह फैसला राज्य में विधानसभा चुनाव से तीन दिन पहले लिया गया है। एक अन्य घटनाक्रम में चुनाव आयोग की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया है, 'भारत निर्वाचन आयोग ने हरियाणा चुनाव के दौरान पर्यवेक्षकों के प्रदर्शन की समीक्षा करने के बाद अंबाला के व्यय पर्यवेक्षक को बदल दिया है।' विज्ञप्ति में आगे कहा गया है, 'व्यय पर्यवेक्षक को प्रवर्तन गतिविधियों की ठीक प्रकार से निगरानी नहीं करने व कुल मिलाकर प्रदर्शन संतोषजनक नहीं पाए जाने पर हटाया गया है।' विज्ञप्ति के मुताबिक रितेश परमार को अंबाला का नया चुनाव पर्यवेक्षक नियुक्त किया गया है और उन्होंने शुक्रवार को अपना कार्यभार ग्रहण कर लिया। हरियाणा में 21 अक्टूबर को विधानसभा चुनाव होंगे। मतों की गिनती 24 अक्टूबर को होगी।

चुनाव आयोग ने नासिक में पुलिस पर्यवेक्षक व रिटर्निंग अफसर बदला
महाराष्ट्र में चुनावी तैयारियों की समीक्षा के बाद शुक्रवार को चुनाव आयोग ने नासिक के पुलिस पर्यवेक्षक और जिले के एक रिटर्निंग अधिकारी को बदल दिया। चुनाव आयोग की विज्ञप्ति के मुताबिक, पुलिस पर्यवेक्षक को निगरानी का काम संतोषजनक नहीं पाए जाने के कारण हटा दिया गया है। विज्ञप्ति में कहा गया है कि आयोग ने फोटो मतदाता पर्ची वितरण की प्रगति के बारे में पाया कि नासिक जिले में एक विधानसभा क्षेत्र का प्रदर्शन बहुत खराब था। यह समीक्षा करते हुए, आयोग ने आरओ 125 नाशिक पश्चिम के प्रतिस्थापन का आदेश दिया।

Posted By: Mukul Kumar