kanpur@inext.co.in

KANPUR : आचार संहिता के उल्लंघन पर आधा दर्जन नेताओं को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है. मीडिया की खबरों को स्वत संज्ञान में लेते हुए इलेक्शन ऑफिसर्स की तरफ से नोटिसें जारी की गई हैं. इन सभी से स्पष्टीकरण जल्द से जल्द दाखिल करने के आदेश दिए गये हैं.

- अपार्टमेंट में बैनर लगाने पर आम आदमी पार्टी के संयोजक योगेश श्रीवास्तव

- एसयूवी कार पर नेम प्लेट व फ्लैग लगाने पर भारतीय जनता पार्टी के नेता महेन्द्र तिवारी

- मछरिया में फूड आइटम डिस्ट्रिब्यूट करने पर अकबरपुर लोकसभा सीट से बसपा प्रत्याशी अनिल शुक्ला वारसी

- शिक्षक पार्क में धनीराम गौड़ की सर्वधर्म सभा में राजनैतिक दलों के नेताओं को बुलाने के मामले में

- कपड़े के थानों पर चढ़ी हुई प्लास्टिक पर पीएम उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी की फोटो प्रिंट होने पर बीजेपी जिलाध्यक्ष को

--

निखिल गुप्ता के खिलाफ एफआईआर

नवभारत डेमोक्रेटिक पार्टी व उनके उम्मीदवार की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. इस बार नामांकन से पहले ही पार्टी की तरफ से चुनाव चिन्ह का इस्तेमाल करके प्रचार करते पकड़ा गया. एडीएम सिटी ने बताया कि पार्टी को चुनाव चिन्ह आवंटित नहीं है. मगर, पार्टी की तरफ से मेज को चुनाव चिन्ह की तरह इस्तेमाल करके प्रचार-प्रसार किया जा रहा है. थर्सडे को ऐसा ही एक रथ चुनावी प्रचार करते पाया गया. इस रथ को जब्त कर लिया गया है. सूचना है कि इस मामले में रिपोर्ट लिखाई जा रही है. वहीं डॉ. गुप्ता पर थाना फजलगंज में गडरियनपुरवा में बिना प्रशासनिक अनुमति कैम्प लगाकर चुनाव प्रचार करने को लेकर एफआईआर दर्ज कराई गई है.

मुफ्त चाय-मिठाई बांटने वालों पर नजर

वोटर्स को लुभाने के लिए मुफ्त में चाय, मिठाई, कपड़ा या शराब बांटने वालों की शिकायत मिलने पर रिटर्निग ऑफिसर्स (आरओ) ने थर्सडे को छापेमारी अभियान चलाया. आरओ बनाये गये सभी एसीएम व एसडीएम लेवल ऑफिसर्स ने अपने-अपने एरियाज में चेकिंग कर छानबीन की. इस दौरान स्टेटिक सर्विलांस टीमें भी चेकिंग में मौजूद रहीं.