- ढाई घंटे अंधेरे में रहे खोराबार उपकेंद्र से जुड़े 15 हजार बिजली कंज्यूमर्स

GORAKHPUR: खोराबार से जुड़े फीडर की सप्लाई ठप होने से करीब 15 हजार बिजली कंज्यूमर्स को परेशानी का सामना करना पड़ा. सूचना पर पहुंचे बिजली अधिकारियों ने मरम्मत कार्य शुरू करवाया. करीब ढाई घंटे बाद जाकर एरिया की सप्लाई शुरू की जा सकी.

खोराबार उपकेंद्र में मंगलवार की रात करीब 9 बजे 33 केवी का जंपर जल जाने से सात फीडर की सप्लाई बाधित हो गई. इसकी वजह से अर्बन और रूरल एरिया के इंजीनियरिंग कॉलेज, मालवीय नगर, दिव्य नगर, नंदानगर, एयर फोर्स, छावनी, सिंघडि़या, महादेव झारखंडी, आवास विकास कॉलोनी, नदुआ पार, सूबा बाजार एरिया की सप्लाई दो घंटे के लिए ठप हो गई. इसकी सूचना मिलने पर बिजली विभाग ने लाइन को ठीक कराया. रात करीब 11.30 बजे सप्लाई जैसे ही चालू की गई उपकेंद्र के इनकमिंग फीडर का उपकरण जल गया. एसडीओ और जेई के प्रयास से करीब 12.30 बजे बिजली सप्लाई बहाल की जा सकी.

तारामंडल में भी आती-जाती रही बिजली

तारामंडल एरिया में बिजली की आंख मिचौली ने 400 कंज्यूमर्स की परेशानी बढ़ा दी. कंज्यूमर विनोद सिंह ने बताया कि रात करीब 10 बजे अचानक बिजली गुल हो गई. जेई के मोबाइल पर कॉल करने पर रिस्पॉन्स नहीं मिला. हालांकि आधे घंटे के बाद सप्लाई बहाल हुई लेकिन भोर में दोबारा बिजली गुल हो गई. बार-बार बिजली के आने-जाने का सिलसिला जारी रहा. इसकी वजह से एरिया के दर्जन भर परिवारों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा.

वर्जन

जंपर टूटने और उपकरण में तकनीकी खराबी होने से सप्लाई बाधित हुई थी. ठीक करवाकर सप्लाई बहाल कर दी गई.

वीके चौधरी, एक्सईएन खोराबार