कैंपों में अस्थाई कनेक्शन प्रक्रिया होगी आसान

बिजली के खंभों की कवरिंग और बेरिकेटिंग का काम शुरू

Meerut. सावन के साथ ही जल्द कांवड़ यात्रा का शुभारंभ होने जा रहा है. महाशिवरात्रि के इस पावन पर्व पर कावंडि़यों की सुरक्षा के लिए पुलिस प्रशासन के साथ ही बिजली विभाग भी मुस्तैद हो गया है. इतना ही नहीं बिजली विभाग ने कांवड़ सेवा शिविरों में अस्थाई बिजली कनेक्शन की प्रक्रिया समेत कांवड़ मार्ग पर बिजली के तारों की रिपेयरिंग से लेकर ट्रांसफार्मर की बेरिकेडिंग को दुरुस्त करने का काम शुरू कर दिया है.

शिविरों के लिए कनेक्शन

कांवड़ मार्ग पर लगने वाले सेवा शिविरों में लाइटिंग के लिए बिजली विभाग द्वारा इस बार कनेक्शन की प्रक्रिया आसान की गई है. विभाग द्वारा अस्थाई मीटर के लिए तुरंत एनओसी जारी की जाएगी. इसके साथ ही कनेक्शन को मेन लाइन से जोड़ने तक का पूरा काम खुद विभाग द्वारा ही किया जाएगा.

रोशन होगा कांवड़ मार्ग

हर साल की तरह इस साल भी कांवड़ मार्ग को अस्थाई पोल के माध्यम से लाइट लगाकर रोशन किया जाएगा. इसके लिए बिजली विभाग द्वारा ऐसी जगहों को चिन्हित किया जा रहा है, जहां स्ट्रीट लाइट नहीं लगी हुई है.

हादसों से बचाव की व्यवस्था

बिजली विभाग का पूरा ध्यान इस बार कांवड़ मार्ग पर करंट से होने वाले हादसों को रोकने पर है. बारिश के दौरान अक्सर बिजली पोल में करंट उतरने की घटना बढ़ जाती है. ऐसे में कांवडि़यों के साथ कोई हादसा न हो इसके लिए कांवड़ मार्ग पर सभी बिजली के खंभों को पॉलीथिन से कवर करने के साथ-साथ जर्जर तारों को बदलने और कसने का काम शुरू किया जा चुका है.

ट्रांसफार्मर की होगी बेरिकेडिंग

कांवड़ मार्ग पर लगे बिजली ट्रांसफार्मर की बेरिकेंडिंग के लिए भी संबंधित क्षेत्र के बिजली सुरक्षा अधिकारियों से अपडेट व फोटोग्राफी कराई जा रही है. मार्ग पर बने जिन ट्रांसफार्मर पर बेरिकेडिंग नहीं है, उनकी बेरिकेडिंग की जाएगी. इसके लिए विभाग द्वारा कांवड़ मार्ग का निरीक्षण शुरू कर दिया गया है.

कांवड़ मार्ग पर पावर सप्लाई अपडेट करने के निर्देश दे दिए गए हैं. विभाग की सेवा शिविर संचालकों से अपील है कि कनेक्शन लेकर ही बिजली का प्रयोग करें ताकि किसी प्रकार का हादसा या असुविधा न हो.

आशुतोष निरंजन, एमडी पावर