-सिटी मजिस्ट्रेट के आदेश पर कोतवाली से डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल तक हटाया गया अतिक्रमण

- अतिक्रमणकारियों से अधिकारियों की हुई नोकझोंक, कई बार फंसी एंबुलेंस

बरेली: नगर निगम की टीम ने थर्सडे को कुतुबखाना में सालों से सड़क और फुटपाथ पर लगी अवैध 220 दुकानों का अतिक्रमण हटाया. जिससे जो रोड महज 10 फीट की दिखाई देती थी, वह 20 फीट की निकली और यातायात भी सुगम हो गया. इस दौरान अधिकारियों और अवैध दुकानदारों से नोकझोंक भी हुई, लेकिन फोर्स के आगे किसी की एक नहीं चली. सिटी मजिस्ट्रेट संजय कुमार, अतिक्रमण प्रभारी ललतेश आदि रहे.

झेलना पड़ा विरोध

सिटी मजिस्ट्रेट के आदेश पर नगर नगर की टीम जब कोतवाली से डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल तक अतिक्रमण हटवाने गई तो लोगों ने जमकर विरोध किया. वहीं कुछ लोगों ने अतिक्रमण प्रभारी से नोकझोक भी हुई. पुलिस फोर्स को देखते ही विरोध कर रहे अपने सामान हटाने में लग गए.

विरोध पर सामान जब्त

नगर निगम के जेसीबी ने सड़क किनारे सारे अतिक्रमण तोड़ दिए और विरोध करने वालों का सामान भी जब्त कर लिया. वहीं अतिक्रमण हटाने के दौरान डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल की एंबुलेंस कई बार जाम में फंसी, जिसे पुलिस ने जाम हटवाकर रवाना किया.

======================

-कोतवाली से डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल तक रोड से अतिक्रमण हटवाया गया. इस दौरान अवैध 220 दुकानों को हटाया गया.

ललतेश सक्सेना, अतिक्रमण प्रभारी नगर निगम

----------------

बोले लोग

रोड पर अतिक्रमण करने वालों को पहले ही इस बात का ध्यान देना चाहिए था. नगर निगम अतिक्रमण हटवाता तो पहले भी था लेकिन दूसरे दिन फिर से अतिक्रमण हो जाता था.

अनिल

------------------

नॉवल्टी से डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल आने के लिए एक साइड में सिर्फ पांच फिट ही रोड बची थी. लेकिन अतिक्रमण हटा तो पता चला कि यह तो 10 फिट से अधिक चौड़ी रोड हैं.

अमन

===================

बोले जिम्मेदार