लंदन (पीटीआई)। इंग्लैंड की पूर्व कप्तान क्लेयर काॅनर 233 साल के इतिहास में मेरिलबोन क्रिकेट क्लब (एमसीसी) की पहली महिला अध्यक्ष बनने के लिए तैयार हैं। उनका नाम खुद एमसीसी के वर्तमान प्रमुख पूर्व श्रीलंकाई क्रिकेटर कुमार संगकारा ने सामने रखा है। बता दें संगकारा अगले साल इस पद से रिटायर हो रहे। कॉनर का नामांकन, जो वर्तमान में महिला क्रिकेट की ईसीबी की प्रबंध निदेशक हैं, उनकी घोषणा संगकारा ने बुधवार की वार्षिक आम बैठक के दौरान वीडियो के माध्यम से की।
अगले साल अक्टूबर में संभालेंगी पद
काॅनर अगले साल 1 अक्टूबर को पद ग्रहण करेंगी। मौजूदा कोरोना संकट को देखते हुए क्लब के सदस्यों ने संगकारा को एक साल और इस पद रहने का आग्रह किया है। 2009 में एमसीसी की मानद जीवन सदस्य बनाए गई काॅनर ने कहा, "एमसीसी के अगले अध्यक्ष के रूप में नामित होने पर मैं बहुत सम्मानित महसूस कर रही हूं। क्रिकेट ने मेरे जीवन को पहले ही बहुत गहराई से समृद्ध कर दिया है, और अब यह मुझे इस अद्भुत विशेषाधिकार के साथ सौंपता है।" उन्होंने आगे कहा, 'हमें अक्सर यह देखने की ज़रूरत है कि हम कितनी दूर आ गए हैं। मैंने क्रिकेट में अपनी पहली यात्रा 9 साल की उम्र में की थी। उस वक्त लड़कियों को इतना सम्मान नहीं मिलता था। अब समय बदल गया है।'


ऐसा रहा है काॅनर का करियर
काॅनर ने 1995 में 19 साल की उम्र में इंग्लैंड में पदार्पण किया और 2000 में कप्तानी संभाली, जिसके एक साल बाद ऑस्ट्रेलिया ने लॉर्ड्स में इंग्लैंड के खिलाफ जीत दर्ज की। बाएं हाथ की स्पिन गेंदबाजी करने वाली ऑलराउंडर, कॉनर ने इंग्लैंड की महिलाओं को 42 साल में अपनी पहली एशेज विजय के लिए नेतृत्व किया, जिसने 2005 में 1-0 से सीरीज अपने नाम की थी। 2007 में उन्हें ECB की महिला क्रिकेट प्रमुख के रूप में नियुक्त किया गया था। अपने ईसीबी कर्तव्यों के अलावा, कॉनर 2011 से आईसीसी महिला क्रिकेट समिति की अध्यक्ष हैं। उन्होंने ससेक्स क्रिकेट और स्पोर्ट इंग्लैंड बोर्ड में निदेशक के रूप में भी काम किया है।
संगकारा हैं बेहद खुश
संगकारा ने कहा, "मैं रोमांचित हूं कि क्लेयर ने एमसीसी के अगले अध्यक्ष बनने के निमंत्रण को स्वीकार कर लिया है। क्रिकेट की वैश्विक अपील में क्लब की महत्वपूर्ण भूमिका है और उनके प्रभाव से, मुझे यकीन है कि वह एमसीसी में काफी योगदान देंगी।" श्रीलंका के पूर्व कप्तान अक्टूबर 2019 में पदभार ग्रहण करने के बाद, क्लब के पहले गैर-ब्रिटिश अध्यक्ष बने थे।

Posted By: Abhishek Kumar Tiwari

Cricket News inextlive from Cricket News Desk