-आरयू में छात्रा से छेड़खानी की घटना के बाद फ्राइडे को हुआ जमकर हंगामा

-आरोपी के खिलाफ दर्ज कराई गई एफआईआर, जांच के लिए बनी कमेटी

<-आरयू में छात्रा से छेड़खानी की घटना के बाद फ्राइडे को हुआ जमकर हंगामा

-आरोपी के खिलाफ दर्ज कराई गई एफआईआर, जांच के लिए बनी कमेटी

BAREILLYBAREILLY :

आरयू में थर्सडे दोपहर को हुई छेड़खानी की घटना के बाद फ्राइडे को सुबह से दोपहर तक जमकर हंगामा हुआ. आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर स्टूडेंट्स और छात्र नेताओं ने वीसी ऑफिस के बाहर आरयू प्रशासन के खिलाफ नारे लगाए. इसके बाद आरयू वीसी प्रो. अनिल शुक्ल ने तुरंत छात्रा की तहरीर पर एफआईआर दर्ज कराई और हंगामा कर रहे छात्र नेताओं को भी बताया. वीसी ने कहा कि आरोपी के खिलाफ जांच कमेटी बना दी गई. तब कहीं जाकर मामला शांत हुआ.

आरोपी को किया गया सस्पेंड

छात्रा से छेड़खानी और मारपीट करने वाले आरोपी एमबीए के छात्र अश्वनी शाही के खिलाफ पुलिस ने छात्रा की तहरीर पर एफआईआर दर्ज कर ली है. वहीं वीसी ने आरोपी के खिलाफ जांच शुरू करा दी है. जांच में दोषी पाए जाने पर उसे रेस्टीकेट कर दिया जाएगा. इसके साथ छात्र के कैंपस में प्रवेश पर रोक लगा दी है. फिलहाल आरयू प्रशासन ने आरोपी छात्र को सस्पेंड कर दिया है.

छात्रों के दो गुटों ने भी जताया विरोध

छेड़खानी की घटना के विरोध में समाजवादी छात्र सभा के गजेन्द्र कुर्मी के साथ पहुंचे करीब सौ से अधिक छात्रों ने वीसी से मुलाकात कर कैंपस में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने की मांग की ताकि छेड़खानी करने वाले बच न पाएं. वहीं एबीवीपी के जिला संगठन मंत्री राहुल चौहान, महानगर मंत्री गौरव यादव, योगेश पंडित, निशा चौधरी, आस्था झींगरण, मानसी, प्राची, सपना, विशाखा के साथ पहुंचे कार्यकर्ताओं ने भी वीसी ऑफिस के सामने करीब दो घंटे तक हंगामा कर विरोध जताया. इसके बाद कार्यकर्ताओं ने वीसी से मुलाकात कर आरोपी छात्र को यूनिवर्सिटी से निकालने का मांग रखी.

गार्ड को भी कैंपस से हटाया

छेड़खानी की शिकार छात्रा ने कैंपस के गार्ड पर भी आरोप लगाया था कि गार्ड ने हेल्प करने की जगह उसी से अपशब्द कहे. वीसी का कहना है कि छात्रा की शिकायत पर आरोपी गार्ड को कैंपस ड्यूटी से हटा दिया गया है.

====================

छात्रा की तहरीर पर एफआईआर दर्ज करा दी गई है. छात्र के खिलाफ सस्पेंशन की कार्रवाई की गई है. जांच के लिए कमेटी भी बना दी है. छात्रा की हर तरह से मदद की जाएगी.

प्रो. अनिल शुक्ल, आरयू वीसी

==============

शर्मसार हो रहा आरयू, आंखें बंद किए विवि प्रशासन--फोटो-

असुरक्षित हैं छात्राएं, कैंपस में घूमते नजर आते हैं बाहरी

-क्09 सुरक्षाकर्मी ड्यूटी के नाम पर कर रहे खानापूर्ति

ड्डठ्ठद्मह्वह्म ह्यद्धह्वद्मद्यड्ड

आरयू में छात्राएं असुरक्षित हैं. वजह यहां नशे की हालत में बाहरी लोग घूमते रहते हैं. इन्हें कैंपस में तैनात गार्ड्स रोकना तो दूर टोकना तक उचित नहीं समझते. इससे शोहदों का मनोबल बढ़ता है और वे छेड़खानी तक की घटनाओं को अंजाम दे देते हैं. यह अलग बात है कि घटनाओं को लेकर स्टूडेंट्स उग्र होते हैं, हंगामा करते हैं, लेकिन आरयू प्रशासन की आंखें नहीं खुलती हैं. इससे आरयू को शर्मसार होना पड़ता है.

स्टूडेंट्स और बाहरी की पहचान करना मुश्किल

आरयू में संचालित कई कोर्सेज में स्टूडेंट्स के लिए ड्रेस कोड निर्धारित है और आईडी कार्ड भी जारी किया गया है, लेकिन ज्यादातर स्टूडेंट बिना ड्रेस कोड और बिना आईडी कार्ड ही आते हैं. इसी का फायदा उठाकर बाहरी लोग भी कैंपस में आ जाते हैं. स्टूडेंट्स के बीच इन बाहरी लोगों को पहचान पाना भी मुश्किल होता है.

सुरक्षा के नाम लाखों खर्च

आरयू कैंपस में सुरक्षा के लिए हर साल लाखों रुपये खर्च किया जाता है. सिक्योरिटी कंपनी ईआईएसएसआई ने क्09 सुरक्षा कर्मियों को तैनात किया है, जिसमें क्ब् एक्स गनमैन, क्म् एक्स डंडामैन, तीन सुपरवाइजर और 7म् सिविलयंस गार्ड शामिल हैं. सुबह म् से दोपहर ख् बजे तक फ्फ् सुरक्षाकर्मी, ख् से रात क्0 बजे तक फ्फ् और रात क्0 से सुबह म् बजे तक फ्म् सुरक्षा कर्मियों की ड्यूटी कैंपस में लगाई जाती है.

इसलिए करते हैं खानापूर्ति

सुरक्षा कर्मियों से आठ-आठ घंटे की ड्यूटी ली जाती है. एक माह ड्यूटी के एवज में सिविलियंस गार्ड को भ्भ्00, एक्स डंडामैनन को म्00, एक्स गनमैन को म्भ्00 और सुपरवाइजर को 7000 रुपये का भुगतान सिक्योरिटी कंपनी करती है. ऐसे में वे ड्यूटी के नाम पर खानापूर्ति करते हैं.

छेड़खानी की कुछ घटनाएं

-एमएससी की छात्रा के साथ सुरक्षा गार्ड ने की थी छेड़खानी

-बीसलपुर चौराहे वाले गेट के पास छात्रा पर धारदार हथियार से शोहदे ने किया हमला

-एलएलएम की छात्रा के साथ उसके ही सहपाठी ने की थी छेड़खानी

-इंजीनियरिंग विभाग में दो छात्राएं हुई थी छेड़खानी की शिकार

-विवि के कर्मचारी पर ही महिला कर्मी ने लगाया था छेड़खानी का आरोप

-कैंपस की दीवारों पर लिखे गए थे अश्लील कमेंट्स

-अब एमएससी फ‌र्स्ट ईयर की छात्रा के साथ वीसी के ड्राइवर के बेटे ने की छेड़खानी