सैन फ्रांसिस्को (आईएएनएस)। 200 करोड़ से अधिक यूजर्स को उनकी गोपनीयता पर अधिक नियंत्रण देने के लिए, फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने 'ऑफ-फेसबुक एक्टिविटी' नाम के एक नए फीचर की घोषणा की है, जो उपयोगकर्ताओं को ब्राउजिंग हिस्ट्री से उनकी पहचान को डिस्कनेक्ट करने की अनुमति देगा। इस टूल के जरिए फेसबुक यह देखने में सक्षम नहीं होगा कि यूजर्स ने किन वेबसाइटों पर विजिट किया है। 'ऑफ-फेसबुक एक्टिविटी' टूल अब दुनिया भर में फेसबुक पर लोगों के लिए उपलब्ध है।

दूसरे लोग फेसबुक को भेजते हैं जानकारी

जुकरबर्ग ने मंगलवार को एक बयान में कहा, 'व्यवसाय करने वाले दूसरे लोग हमें अपनी साइटों पर आपकी गतिविधि के बारे में जानकारी भेजते हैं और हम आपकी जानकारी का उपयोग उन विज्ञापनों को दिखाने के लिए करते हैं जो आपके सर्च से मिलते-जुलते हैं।अब आप उस जानकारी की समरी को देख सकते हैं और अगर आप चाहें हैं तो इसे अपने अकाउंट से हटा सकते हैं।' उन्होंने आगे कहा, 'ऑफ-फेसबुक एक्टिविटी टूल एक नए स्तर की पारदर्शिता और नियंत्रण को दर्शाता है।' अगले कुछ हफ्तों में फेसबुक करीब दो अरब लोगों को प्रॉम्प्ट दिखाएगा, जो उन्हें अपनी प्राइवेसी सेटिंग्स की समीक्षा करने के लिए प्रोत्साहित करेंगे।

फेसबुक अब थर्ड पार्टी लॉगिन के लिए यूजर्स को भेजेगा नोटिफिकेशन

अकाउंट सिक्योरिटी को कर सकते हैं मजबूत

जुकरबर्ग ने कहा, 'प्रॉम्प्ट आपके न्यूज फीड में दिखाई देगा और आपको प्राइवेसी चेकअप टूल पर जाने के लिए निर्देशित करेगा, जिसे हमने हाल ही में अपडेट किया है। इससे यह जानना और भी आसान हो जाएगा है कि आपकी पोस्ट और प्रोफाइल की जानकारी को कौन देख सकता है, लॉगिन अलर्ट को ऑन करके आप अपने अकाउंट सिक्योरिटी को मजबूत कर सकते हैं और उन सूचनाओं की समीक्षा कर सकते हैं जिन्हें आपने फेसबुक के साथ लॉग इन किया है।'

Posted By: Mukul Kumar

Technology News inextlive from Technology News Desk