कानपुर। जी हां यूएई में दूसरी बार अनाथ हुई छह साल की फातिमा इन दिनों सुर्खियों में हैं। फातिमा का एक वीडियाे भी है जिसमें वह अपने बारे में काफी कुछ बता रही है। छह साल की मासूम सी फातिमा अपनी लाइफ में काफी कुछ करना चाहती है। वह अपने सपने पूरा करना चाहती है। गल्फ न्यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक फिलीपीनो गर्ल फातिमा की कहानी बड़ी अजीब है। खबरों के मुताबिक जब वह महज एक साल की थी तब से ही उसकी जिंदगी में परेशानियां आने लगी थी। उसकी सगी मां ने एस साल की उम्र में ही उसे दुबई में छोड़ दिया था।

करीब 5 साल तक बच्च्ची की देखभाल की
इसके बाद एक पाकिस्तानी-फिलिपिनो कपल ने अनाैपचारिक रूप से करीब 5 साल तक उसकी देखभाल की। हालांकि बाद में जब वह कपल थोड़ी परेशानियों से घिरा तो उसने दिसंबर 2018 में फातिमा को अजमान में दोस्तों को सौंप दिया। इससे दूसरी बार फातिमा फिर अनाथ हुई। जब वह एक साल की थी तब उसे कुछ नहीं पता था लेकिन इतने समय तक पाकिस्तानी-फिलिपिनो कपल के साथ रहकर उन्हें अपना समझ रही थी लेकिन अब उन्होंने भी उसे दूसरों के सहारे छोड़ दिया। वहीं छह वर्षीय फातिमा के सपने भी एक आम बच्चे जैसे है।

कोई पासपोर्ट न आईडी और न वीजा
फातिमा का कहना है कि वह खेलना चाहती है। स्कूल जाना चाहती है। दोस्त बनाना चाहती है। वहीं अब एक पाकिस्तानी नागरिक सैयद अली मोअज्जम फातिमा के भविष्य को सुनिश्चित करना चाहता है। फातिमा के डाक्यूमेंट तैयार कराना चाहता है क्योंकि फातिमा के जन्म का कोई रिकॉर्ड नहीं है। उसके पास न कोई पासपोर्ट न आईडी और न वीजा है। इससे न तो उसे किसी स्कूल में एडमीशन मिलेगा और न बीमार होने पर किसी अस्पताल में इलाज मिलेगा। मोअज्जम का दावा है कि अजमान पुलिस ने उसे फिलीपींस दूतावास में भेजा है।
अमेरिका में मानव तस्करी के लिए भारतीय को पांच साल की सजा
सबूत की जरूरत है कि बच्ची फिलिपिनो
वहीं दूतावास का कहना है कि सबूत की जरूरत है कि बच्चा फिलिपिनो है। इसके लिए उसके डीएनए टेस्ट की बात हो रही है। वहीं इस मासूम सी बच्ची की कहानी सामने आने के बाद जब गल्फ न्यूज ने फातिमा की कथित वास्तविक मां से संपर्क करने का प्रयास किया। इस पर उसे पाॅजिटिव रिस्पांस नहीं मिला। फोन का जवाब देने वाले ने कहा कि जिसके बारे में पूछ रहे हैं अब वह महिला इस पर नंबर पर नही है और न यह फोन उसका रह गया है लेकिन साथ ही जवाब देने वाले व्यक्ति ने कहा कि वे अभी भी संपर्क में है और संयुक्त अरब अमीरात में है।

International News inextlive from World News Desk